srd news

OBC क्रिमीलेयर के दायरे में बढ़ोतरी की सिफारिश

अन्य पिछड़ा वर्ग ओबीसी के उत्थान के लिए गठित समिति ने क्रीमी लेयर की आय दायरे को एक निश्चित अंतराल पर बढ़ाने की सिफारिश की है समिति ने सरकार को इसे लेकर एक रिपोर्ट भी दी है जो 24 जून 2019 को संसद के दोनों सदनों में पेश की गई समिति ने अपनी सिफारिश में कहा है कि जिस तरीके से शिक्षा स्वास्थ्य और परिवहन के खर्चों में बढ़ोतरी हो रही है ऐसे में क्रीमीलेयर की आय दायरे में बढ़ोतरी जरूरी है समिति ने अपनी सिफारिश में ओबीसी आरक्षण के लिए नॉन क्रीमी लेयर सर्टिफिकेट जारी करने संबंधी सिफारिश पर अमल न होने पर असंतोष व्यक्त किया है विदित हो कि क्रिमिलियर दायरे का निर्धारण वर्ष 1993 में पहली बार किया गया था उस समय एक लाख वार्षिक आय से अधिक को इस दायरे में रखा गया था जो वर्तमान में 8 लाख  हैं ओबीसी क्रीमी लेयर का यह फार्मूला सरकार ने कोर्ट के आदेश पर तैयार किया है इसका मुख्य उद्देश्य है सरकार ने पिछड़ी जातियों को आरक्षण का लाभ दिलाने के लिए जस्टिस की अध्यक्षता में समिति गठित की है जो ओबीसी जातियों के वर्गीकरण में जुटी है



Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *