Notification

×

अमरीका की उपराष्‍ट्रपति कमला हैरिस की राष्‍ट्रपति षी चिनफिंग से मुलाकात :antarrashtriya samachar

रविवार, 20 नवंबर 2022 | नवंबर 20, 2022 WIB Last Updated 2022-11-19T19:16:15Z
    Share

अमरीका की उपराष्‍ट्रपति कमला हैरिस ने एपेक शिखर सम्‍मेलन में चीन के राष्‍ट्रपति षी चिनफिंग से मुलाकात की

antarrashtriya samachar



अमरीका की उपराष्‍ट्रपति कमला हैरिस ने आज सुबह थाईलैंड में एपेक शिखर सम्‍मेलन में चीन के राष्‍ट्रपति षी चिनफिंग से मुलाकात की। व्‍हाइट हाउस के एक बयान में कहा गया है कि कमला हैरिस ने दोनों देशों के बीच जिम्‍मेदारी के साथ संचार का आह्वान किया।


 


श्री चिनफिंग ने कहा कि इंडोनेशिया के बाली में अमरीकी राष्‍ट्रपति जो बाइडेन के साथ उनकी मुलाकात महत्‍वपूर्ण और रचनात्‍मक थी।


खबरों में कहा गया है कि चीन और अमरीका के संबंधों को आगे ले जाने के लिए इस बैठक का विशेष महत्‍व है।



मलेशिया में आज संसद और तीन प्रांतीय असेम्‍बलियों के चुनाव के लिए वोट डाले जा रहे हैं



मलेशिया में आज संसद और तीन प्रांतीय असेम्‍बलियों के चुनाव के लिए वोट डाले जा रहे हैं। राजधानी क्‍वालालम्‍पुर और अन्‍य शहरों में सवेरे के समय मतदाताओं की लम्‍बी कतारें देखी गई हैं क्‍योंकि मौसम विभाग ने दोपहर बाद देश के विभिन्‍न हिस्‍सों में वर्षा का अनुमान व्‍यक्‍त किया है।


मुख्‍य मुकाबला, यूनाइटेड मलाया नेशनल आर्गेनाइजेशन के नेतृत्‍व वाले गठबंधन और अनवर इब्राहिम 'अनवर' के पकटन हरपन गठबंधन के बीच है। विश्‍लेषकों का कहना है कि अभी चुनाव परिणामों का अनुमान लगाना मुश्किल है, संसद में किसी दल को बहुमत न मिलने की स्थिति में नए गठबंधन बन सकते हैं।


मलेशिया में वर्ष 2018 के बाद से तीन प्रधानमंत्री बन चुके हैं।



अमरीका के न्‍याय विभाग ने पूर्व राष्‍ट्रपति डोनल्‍ड ट्रंप से जुडे मामलों के लिए जैक स्मिथ को सरकारी वकील बनाया



अमरीका के न्‍याय विभाग ने पूर्व राष्‍ट्रपति डोनल्‍ड ट्रंप से जुडे मामलों को देखने के लिए युद्ध अपराध के मुकदमों की पैरवी करने वाले जैक स्मिथ को सरकारी वकील बनाया है।


   


अमरीका न्‍याय विभाग, पूर्व राष्‍ट्रपति डोनल्‍ड ट्रंप के वर्ष 2020 में राष्‍ट्रपति चुनाव परिणामों को प्रभावित करने के कथित प्रयास और जनवरी-2021 में संसद की इमारत कैपि‍टॉल पर ट्रम्‍प के समर्थकों के हमले की जांच कर रहा है।






कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

जुड़े श्रीराम दूत नेटवर्क से

लोकप्रिय पोस्ट