Notification

×

ad

ad

कोयला मंत्रालय : कोयला खनन नीलामी के अन्‍तर्गत 5 राज्यों की 8 खदानों की ई-नीलामी

मंगलवार, 13 सितंबर 2022 | सितंबर 13, 2022 WIB Last Updated 2022-09-13T16:41:10Z
    Share

Ministry of Coal : कोयला मंत्रालय ने आज वाणिज्यिक कोयला खनन नीलामी के अन्‍तर्गत पांच राज्यों की आठ खदानों की ई-नीलामी की। छत्तीसगढ़, झारखंड, महाराष्ट्र, ओडिशा और मध्य प्रदेश में स्थित इन खदानों का कुल कोयला भंडार दो हजार 157 मिलियन टन है। कोयला मंत्रालय ने वाणिज्यिक कोयला खनन नीलामी के अन्‍तर्गत पांच राज्यों की आठ खदानों की ई-नीलामी की


Ministry of Coal


कोयला मंत्रालय ने बताया कि छत्तीसगढ़ में सुरसा खदान, महाराष्ट्र की दाहेगांव-मकरधोकरा-IV और मरकी मंगली-IV खदानें, झारखंड की जितपुर और बसंतपुर खदानें, मध्य प्रदेश की बंधा उत्तर खदान और ओडिशा की रामपिया और डिप साइड की रंपिया खदान की ई-नीलामी की गई।


मंत्रालय ने बताया कि ओडिशा में रंपिया और डिप साइड में सबसे ज्यादा 117 करोड़ 94 लाख टन से अधिक के भंडार है। केंद्र सरकार का निकट भविष्य में 107 से अधिक कोयला ब्लॉकों की नीलामी का लक्ष्य है।


ऊर्जा जरूरतों को पूरा करने और औद्योगिक विकास को बढ़ावा देने में आत्मनिर्भरता हासिल करने के उद्देश्य से प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने जून 2020 में वाणिज्यिक खनन के लिए कोयला खदानों की नीलामी शुरू की थी। कोयला खदानों के राष्ट्रीयकरण के 45 साल से अधिक समय के बाद सरकार ने कोयला क्षेत्र को निजी क्षेत्र द्वारा वाणिज्यिक खनन के लिए खोल दिया। दुनिया का चौथा सबसे बड़ा कोयला भंडार होने के बावजूद भारत कोयले का दूसरा सबसे बड़ा आयातक 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

जुड़े श्रीराम दूत नेटवर्क से

ad

लोकप्रिय पोस्ट