Notification

×

ad

ad

Shiksha M Portal में उपस्थिति अनिवार्य , अन्यथा रुकेगा वेतन - हर्षिका सिंह

शनिवार, 27 अगस्त 2022 | अगस्त 27, 2022 WIB Last Updated 2022-08-26T19:55:48Z
    Share

मंडला : शैक्षणिक गतिविधियों की समीक्षा करते हुए कलेक्टर हर्षिका सिंह ने निर्देशित किया कि शालाओं में बच्चों की शतप्रतिशत उपस्थिति सुनिश्चित करें तथा उन्हें गुणवत्तायुक्त शिक्षा प्रदान करें। शालात्यागी तथा कम उपस्थिति वाले बच्चों की सूची तैयार करें। ऐसे बच्चों से संपर्क कर उन्हें शाला आने के लिए प्रेरित करें। पालकों को भी इस संबंध में आवश्यक समझाईश दें। जिला योजना भवन में संपन्न हुई इस बैठक में सहायक आयुक्त जनजातीय कार्यविभाग विजय तेकाम, जिला शिक्षा अधिकारी सुनीता बर्वे, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. श्रीनाथ सिंह, डीपीसी बीपी ठाकुर सहित संबंधित उपस्थित रहे।


Shiksha M Portal news


            कलेक्टर हर्षिका सिंह ने कहा कि सभी शिक्षक समयपूर्व शाला पहुंचे तथा शिक्षा एम पोर्टल (Shiksha M Portal)  के माध्यम से अपनी उपस्थिति लगाएं। जो शिक्षक पोर्टल में अपनी उपस्थिति दर्ज नहीं करते हैं उनका वेतन रोकें। उन्होंने इस संबंध में संकुल प्राचार्य, बीईओ तथा बीआरसी को मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिए। श्रीमती सिंह ने कहा कि विद्यार्थियों की समग्र मैपिंग का कार्य एक सप्ताह में पूर्ण कर उसकी डाटा एंट्री पूर्ण करें। ऐसे स्कूल जिनकी विमर्श पोर्टल पर एंट्री बाकी है उसे तत्काल पूरा करें। पाठ्यपुस्तकों का शतप्रतिशत वितरण सुनिश्चित करें एवं पोर्टल पर एंट्री भी करें। ऊर्जा साक्षरता की समीक्षा के दौरान कलेक्टर ने इस संबंध में शिक्षकों की ब्रीफिंग करने तथा कार्यक्रम आयोजित करने के निर्देश दिए।


            बैठक में कलेक्टर ने निर्देशित किया कि जिन स्कूलों में विद्युतीकरण का कार्य शेष है, अपूर्ण कार्य एक माह में पूर्ण कराएं। इसी प्रकार नवभारत साक्षर अभियान के तहत चिन्हित लोगों की सूची उपलब्ध कराते हुए डेटाएंट्री सुनिश्चित करें। बैठक में उन्होंने कहा कि जन चेतना केन्द्रों को सक्रिय करें। अभियान के तहत प्राचार्य, बीईओ, बीआरसी, बीएसी, जनशिक्षक तथा शिक्षक कम से कम 10-10 निरक्षरों को साक्षर करने की जिम्मेदारी स्वीकार करें। उन्होंने कहा कि सीएम राईज स्कूलों में शिक्षा की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान रखें। विशेष शिविर लगाकर सभी बच्चों तथा उनके पालकों का आयुष्मान पंजीयन करें। बैठक में कलेक्टर हर्षिका सिंह ने बच्चों के टीकाकरण तथा राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस के संबंध में भी आवश्यक निर्देश दिए।


29 अगस्त से चलेगा ’घर-घर दस्तक अभियान’


            बैठक में कलेक्टर हर्षिका सिंह ने निर्देशित किया कि शालात्यागी एवं अनियमित उपस्थिति वाले बच्चों की शालाओं में नियमित उपस्थिति सुनिश्चित करने के उद्देश्य से 29 अगस्त से ’घर-घर दस्तक’ अभियान संचालित किया जाएगा। अभियान के दौरान जनप्रतिनिधियों का सहयोग प्राप्त करते हुए शालाओं में शतप्रतिशत उपस्थिति का प्रयास किया जाएगा। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को शालात्यागी एवं कम उपस्थिति वाले बच्चों की सूची जनप्रतिनिधियों को उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। श्रीमती सिंह ने कहा कि सभी विभागों के जिलाधिकारियों को भी इस अभियान में जोड़ा जाएगा।


दिव्यांग बच्चों को प्रथम पंक्ति पर बैठाएं


            श्रीमती सिंह ने निर्देशित किया कि जो दिव्यांग बच्चे स्कूलों में पढ़ सकते हैं उनका स्कूलों में नामांकन सुनिश्चित करें। दिव्यांग बच्चों की उपस्थिति एवं शिक्षा पर विशेष ध्यान दें। घर-घर जाकर उन्हें शिक्षा के लिए प्रेरित करें। कलेक्टर ने कहा कि दिव्यांग बच्चों को कक्षाओं की प्रथम पंक्ति में बैठाना सुनिश्चित करें।


अच्छे परिणाम पर प्रशंसा-पत्र, खराब पर नोटिस जारी करें


            बैठक में कलेक्टर हर्षिका सिंह ने हाईस्कूल एवं हायरसेकेंडरी बोर्ड परीक्षा परिणामों की विस्तृत समीक्षा की। उन्होंने अच्छे परिणाम देने वाले प्राचार्यों एवं शिक्षकों को प्रशंसा पत्र जारी करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि खराब परीक्षा परिणाम वाले संस्थाओं के प्राचार्यों तथा शिक्षकों को नोटिस जारी करें। निराशाजनक परीक्षा परिणाम पर कलेक्टर हर्षिका सिंह ने शासकीय हायर सेकेंडरी स्कूल क्रमांक-2 के प्राचार्य की वेतनवृद्धि रोकने के निर्देश दिए। श्रीमती सिंह ने कहा कि सभी शिक्षक पूरी क्षमता से पढ़ाएं जिससे बेहतर परीक्षा परिणाम हासिल किया जा सके। 


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

जुड़े श्रीराम दूत नेटवर्क से

ad

लोकप्रिय पोस्ट