Notification

×

कलेक्टर हर्षिका सिंह की पाठशाला कोई भी महिला नही रहेगी निरक्षर : Mandla

मंगलवार, 2 अगस्त 2022 | अगस्त 02, 2022 WIB Last Updated 2022-08-01T18:32:32Z
    Share

Mandla Collector Harshika Singh  ने आज बहुत ही सराहनीय कार्य किया है, उन्होंने आज मातृशक्ति को साक्षर करने का जागरूकता अभियान चलाया । आज कलेक्टर हर्षिका सिंह निरक्षर महिलाओं को प्रेरित करने फूलवाड़ी पहुँची ।


Mandla Collector Harshika Singh
Mandla Collector Harshika Singh : फूलवाड़ी


            कलेक्टर हर्षिका सिंह ने मंडला नगर के फूलवाड़ी क्षेत्र जाकर निरक्षर महिलाओं को पढ़ने के लिए प्रेरित किया। निरक्षरता से आजादी अभियान के अंतर्गत इस क्षेत्र में 77 निरक्षर महिलाएं चिन्हित की गई हैं। श्रीमती सिंह ने वार्ड की राधाबाई, संगीता, दुर्गा बाई आदि से मुलाकात कर उन्हें शिक्षा का महत्व बतलाया। कलेक्टर ने कहा कि शिक्षा हमारे जीवन स्तर को बेहतर बनाती है। साक्षर होकर हम वित्तीय धोखाधड़ी से बच सकते हैं। बैंक में अंगूठा लगाने के बजाय हस्ताक्षर करना चाहिए। हस्ताक्षर करने के लिए साक्षर होना आवश्यक है।


            कलेक्टर श्रीमती सिंह ने आंगनवाड़ी कार्यकर्ता दीपिका यादव से वार्ड की निरक्षर महिलाओं के संबंध में विस्तार से जानकारी ली। उन्होंने निरक्षर महिलाओं को समझाया कि साक्षर होने के लिए उन्हें दूर जाने की आवश्यकता नहीं है, यदि वे चाहें तो निकट के आंगनवाड़ी केन्द्र में ही कक्षाएं लगाई जा सकती हैं। निरक्षर महिलाओं की सहमति प्राप्त होते ही कलेक्टर की उपस्थिति में आंगनवाड़ी केन्द्र फूलवाड़ी में कक्षाएं प्रारंभ की गई। वार्ड की संगीता बाई ने बताया कि वह पढ़ लिख लेती है फिर भी वह कक्षाओं में जाकर अपने शिक्षा के स्तर को बेहतर बनाना चाहती है। उसने कहा कि वह क्षेत्र के प्रत्येक निरक्षरों को साक्षर बनाने के लिए पूरा सहयोग प्रदान करेगी। भ्रमण के दौरान कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास श्वेता तड़वे, सहायक परियोजना समन्वयक के.के. उपाध्याय, परियोजना अधिकारी महिला एवं बाल विकास अनूप नामदेव सहित संबंधित उपस्थित रहे।


परिवार एवं पड़ोस में कोई निरक्षर न रहे


   फूलवाड़ी केन्द्र में भ्रमण के दौरान कलेक्टर हर्षिका सिंह ने क्षेत्र के युवाओं और छात्र-छात्राओं से भी चर्चा की। श्रीमती सिंह ने इनसे आव्हान किया कि वे अपने परिवार एवं पड़ोस के निरक्षरों को अपनी सुविधानुसार समय निकालकर साक्षर बनाएं। उन्होंने कहा कि वार्ड में बड़ी संख्या में निरक्षर व्यक्ति हैं जिससे वार्ड का विकास भी प्रभावित होता है। वार्ड को शतप्रतिशत साक्षर करने के लिए सभी लोग सम्मिलित प्रयास करें। वार्ड में कोई भी व्यक्ति निरक्षर नहीं रहना चाहिए।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

जुड़े श्रीराम दूत नेटवर्क से

लोकप्रिय पोस्ट