Notification

×

ad

ad

स्थानीय नेता और प्रशासन ने मिल कर मंत्री जी को दिये फर्जी आकड़े | Mandla Nainpur news

गुरुवार, 6 मई 2021 | मई 06, 2021 WIB Last Updated 2021-05-06T05:46:19Z
    Share

Mandla / Nainpur : मौत पर सियासत,,जमीनी हकीकत से कोसो दूर,मंत्री जी को गलत जानकारी दी गई।

mandla nainpur news

नैनपुर कई बार सार्वजनिक जीवन में शांत रहना ही फायदे मंद होता है कल रात मंडला सांसद मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते जी नैनपुर आए रेस्ट हाउस में बीजेपी से जुड़े लोग,समाजिक कार्यकर्ता ने उनसे बात की में तो चुप चाप ही रहा क्यों की मुझे बोलने का हक बिलकुल भी नही था।

" क्यों की में एक साल बाद आज जब निकला घर से जब मंत्री जी आए की कही उनके नजर में कुछ अंक बढ़ जाए "


सत्ता पक्ष बीजेपी, जो काम नगर में कर रहे है दिन रात से जैसे उन ने मंत्री जी को बताया तो मंत्री जी ने कहा सब शांति है न एक पूर्व में जिला महामत्री का पद संभाल चुके नेता के मुंह से सच्चाई निकल ही गई क्रांति है,फिर उन ने खुद को रोका शांति वहा होती है जहा इलाज मिले, सुकून मिले, विश्वास हो, यहां नोकर शाही आपदा में लूट रही है,मनमर्जी से चल रहा है स्थानीय प्रशासन,इलाज के अभाव में अव्यवस्था में मरे लोगो को भूलो नही वो भी इसी नगर मोहल्ले के थे।


 राख के अंदर दबी चिंगारी सिर्फ उन लोगो को दिखती है जो काम करते है। जो सही बात है प्रशासन वो बताए यहां ऑक्सिजन सिलेंडर हॉस्पिटल में कितने है हम को पता है पर स्थानीय प्रशासन को नही,सांसद मंत्री जी का दोष नही है कल स्थानीय नेता और प्रशासन मिल कर मंत्री जी को फर्जी आकडे प्रस्तुत कर रहा था।


उन से पूछो मातम दर्द तकलीफ और गुस्सा जिस के घर से एक साथ दो लाशे जवान बेटे और मां की निकली है।


 हां में हां मिला लो पर कांच में खुद से नजर मिला के देखना? 


क्यों की बीमारी नेता पत्रकार जन प्रतिनिधि रुपया रुतबा कुछ नही देखती सही आकड़े प्रस्तुत करते,मैदानी क्षेत्र के हालात बया करते,अब कहा से करते एक दिन निकल के आ गए तो मैदानी इलाकों में बारिश हुई या ओलो की बरसात किस को पता खेर हम तो एक साल बाद घर से निकले,में अपनी बात कभी भी नहीं करता पर नगर में जो काम रहे है उनकी उपेक्षा मत करो,जो नेताओ और प्रशासन का बेमेल घटबंधन से आपने कल मंत्री के सामने किया,ये नगर कभी आपको माफ नही करेगा।


सांसद,विधायक मंत्री अन्य जन प्रतिनिधि का दोष नही,जमीनी हकीकत उन से छुपाई जाती है। बहुत विचार किया रात भर पर अपने आप को इस पोस्ट को सेंड करने से रोक नही पाया क्यों की आज तक मेरे अंदर का इंसान जिंदा है जो मैदानी हालत में उठती लाशे,लूटता मत दाता,अपनो की सास न थम जाए वो हर डगर पर सवाल करता मतदाता सामने होता है।


ये नगर हमारा है रोज निकलो भाई लोग आज आप आए आत्मा गद गद हो गई ये सेवा का क्षेत्र है न की प्रति स्पर्धा का में आज एक साल बाद घर से निकला उसके लिए नगर के लोगो से माफी चाहता हूं। आज में एक साल बाद निकला इसके लिए मेने नगर के लिए कोई मांग नही की जो रोज सेवा कर रहे है 24 घंटे ये हक उनका था।


दीपक शर्मा नैनपुर मंडला

ad

लोकप्रिय पोस्ट