Notification

×

ad

ad

भिलाई, राउरकेला और देवरी से 450 एम.टी. ऑक्सीजन की आपूर्ति शीघ्र : oxygen supply madhya pradesh

गुरुवार, 15 अप्रैल 2021 | अप्रैल 15, 2021 WIB Last Updated 2021-04-15T11:17:03Z
    Share

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने केन्द्र सरकार का आभार व्यक्त किया , मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश को ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए केंद्र सरकार का आभार माना है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा है कि केन्द्रीय उद्योग मंत्री श्री पीयूष गोयल एवं इस्पात मंत्री श्री धर्मेंद्र प्रधान से प्रदेश को ऑक्सीजन आपूर्ति (Oxygen supply) का आग्रह किया गया था। उनके प्रयासों से प्रदेश को भिलाई, राउरकेला और देवरी से लगभग 450 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की आपूर्ति पर सहमति हुई। इस सहयोग के लिए मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मंत्रीगण का आभार माना है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि ऑक्सीजन के परिवहन के लिए युद्ध स्तर पर व्यवस्थाएँ की जा रही हैं, जिसमें निजी क्षेत्र का सहयोग भी लिया जा रहा है।

oxygen supply madhya pradesh

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि रेमडेसिविर इंजेक्शन (Remedicivir Injection ) के लिए लगातार प्रयास जारी हैं। बुधवार की शाम को 10 हजार इंजेक्शन प्राप्त हुए। निजी अस्पताल अपने स्त्रोतों से इंजेक्शन मंगवा रहे हैं। राज्य शासन द्वारा 50 हजार इंजेक्शनों का आर्डर दिया जा चुका है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि उन्होंने स्वयं तीन कम्पनियों से चर्चा की है, सभी से सकारात्मक उत्तर मिले हैं।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में लगातार बिस्तरों की संख्या बढ़ रही है। भोपाल एम्स में मल्टीकेयर हॉस्पिटल के रूप में व्यवस्था की जा रही है। इसे कोविड के लिए चिन्हित कर यहाँ उपलब्ध बिस्तर तथा आगामी दिनों में खाली होने वाले बिस्तर कोविड के लिए रखे जाएंगे। इसके साथ ही प्रशासन अकादमी में नर्मदा अस्पताल के सहयोग से 150 बिस्तर का कोविड केयर सेंटर विकसित किया जा रहा है। रेडक्रास हॉस्पिटल भोपाल में भी कोविड केयर सेंटर बनाया जा रहा है। इंदौर में राधा स्वामी सत्संग न्यास के सहयोग से 500 बिस्तर का कोविड केयर सेंटर बनाया जा रहा है। शीघ्र ही यहाँ 2 हजार बिस्तरों की व्यवस्था होगी। जबलपुर, ग्वालियर और अन्य शहरों में भी निजी क्षेत्र के सहयोग से बिस्तरों के बढ़ाने के प्रयास जारी हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि 49 जिलों में कोविड केयर सेंटर बनाये जा चुके हैं।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना संक्रमण का सामना करने के लिए सभी दिशाओं में युद्ध स्तर पर कार्रवाई जारी है। संक्रमण की चेन तोड़ना जरूरी है। इसके लिए जिलों में आपदा प्रबंधन समूह कोरोना कर्फ्यू लगाने का निर्णय ले रहे हैं। जनता अपनी मर्जी से संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए आगे आ रही है, यह जागरूकता का परिणाम है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जन-सामान्य से अपील की है कि वे अनावश्यक रूप से घर से बाहर न निकलें। किसान भाई एसएमएस प्राप्त होने पर ही उपज के उपार्जन के लिए जाएँ। हम आत्मानुशासन, स्वयं के संकल्प, दृढ़ इच्छा, संयम, धैर्य और उत्साह से इस युद्ध में विजय प्राप्त करेंगे