Notification

×

ad

ad

पुलिस को चकमा दे ट्रैक पर पहुंचे प्रदर्शनकारी : किसान आंदोलन

गुरुवार, 18 फ़रवरी 2021 | फ़रवरी 18, 2021 WIB Last Updated 2021-04-01T09:35:50Z
    Share

पुलिस को चकमा दे ट्रैक पर पहुंचे प्रदर्शनकारी, लगाया 'मजमा' देश भर में नए कृषि कानून के खिलाफ किसानों का प्रदर्शन जारी है. आज देशभर में रेल रोको अभियान भी चलाया गया. प्रशासन ने भी किसानों को रोकने के लिए पुख्ता इंतजाम किए, इसके बावजूद ग्वालियर रेलवे स्टेशन पर प्रदर्शनकारी रेलवे ट्रैक पर पहुंच गए और प्रदर्शन किया.





ग्वालियर। नए कृषि कानून के विरोध में देशव्यापी रेल रोको अभियान के तहत शहर में भी वामपंथी दलों सहित अन्य किसान संगठनों ने जोरदार प्रदर्शन किया. इस दौरान वामपंथी दल और किसान संगठन के कार्यकर्ता पुलिस को चकमा देने में कामयाब रहे. उन्होंने पुलिस के कड़े पहरे को चकमा देकर ग्वालियर रेलवे स्टेशन से कुछ दूरी पर पहुंचे और रेलवे ट्रैक पर प्रदर्शन किया. कुछ कार्यकर्ता तो रेलवे ट्रैक पर लेट गए और कृषि कानून के विरोध में जमकर नारेबाजी की.





पुलिस को चकमा देकर पटरियों तक पहुंचे प्रदर्शनकारी





कृषि कानून के विरोध में रेल रोको अभियान के तहत आज वामपंथी दल सहित किसान संगठनों ने ग्वालियर रेलवे स्टेशन पर ट्रेन रोकने की चेतावनी दी. जिसके बाद ग्वालियर पुलिस और रेलवे पुलिस ने रेलवे स्टेशन के मुख्य गेटों पर भारी पुलिस बल तैनात कर दिया. ताकि प्रदर्शनकारी रेलवे ट्रैक तक न पहुंच सकें. लेकिन आंदोलनकारी पुलिस को चकमा देकर रेलवे ट्रैक पर पहुंच गए और आंदोलन करने लगे.





प्रदर्शनकारियों को रेलवे ट्रैक से घसीट कर किया गया बाहर





प्रदर्शन के दौरान भारी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंच गया था. पुलिस ने उन्हें काफी समझाया लेकिन वह ट्रैक से हटने को तैयार नहीं थे. जिसके बाद पुलिस ने इन आंदोलनकारियों को घसीट कर रेलवे की पटरी से बाहर किया और इन्हें गिरफ्तार कर लिया. मौके पर जीआरपी, आरपीएफ सहित ग्वालियर पुलिस के अधिकारी और पुलिसकर्मी मौजूद थे. जिन्होंने कड़ी मशक्कत के बाद रेलवे पटरियों को खाली कराया.





प्रदर्शनकारियों के खिलाफ मामला दर्ज





इस मामले में अपर कलेक्टर आशीष तिवारी ने कहा कि इन सभी आंदोलनकारियों को गिरफ्तार कर लिया गया है और इनकी गिनती की जा रही है. जिसके बाद प्रदर्शनकारियों के खिलाफ मामला दर्ज किया जाएगा.