Notification

×

ad

ad

Central paramilitary forces : केंद्रीय अर्ध सैनिक बल के जवान अब इस्तेमाल करेंगे खादी से बनी दरियां

गुरुवार, 7 जनवरी 2021 | जनवरी 07, 2021 WIB Last Updated 2021-04-01T09:35:11Z
    Share
भारत तिब्बत सीमा पुलिस आईटीबीपी ( ITBP) Indo Tibetan Border Police और खादी विकास और ग्रामोद्योग आयोग (KVIC) के बीच (Central paramilitary forces) केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बलों के जवानों के लिए खादी दरी की आपूर्ति हेतु समझौता किया गया।

केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बलों के जवान अब खादी से बनी दरियों का इस्तेमाल करेंगे I आज आईटीबीपी और KVIC के बीच नई दिल्ली में सभी केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ़) के जवानों के लिए कुल 1 लाख 71 हज़ार 520 खादी की दरियों की आपूर्ति के लिए अंतिम औपचारिकता पूरी की गई I गांधी स्मृति, राजघाट, नई दिल्ली में KVIC कार्यालय में KVIC के चेयरमैन विनय कुमार सक्सेना, विवेक भारद्वाज, ए एस पी एम गृह मंत्रालय, और ITBP के आईजी आनंद स्वरुप की मौजूदगी में समझौते पर हस्ताक्षर किये गए I इस हेतु 8 करोड़, 73 लाख, 46 हज़ार रूपए की धनराशि व्यय की जाएगी।

महात्मा गाँधी की 150 वीं जन्म जयंती के अवसर पर अक्टूबर, 2019 में माननीय गृह मंत्री की अध्यक्षता में गृह मंत्रालय में संपन्न हुई केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों की मीटिंग में यह निर्णय लिया गया था कि केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बलों द्वारा खादी से बनी वस्तुओं और अन्य ग्रामोद्योग उत्पादों की आवश्यकतानुसार आपूर्ति सुनिश्चित की जाये I आईटीबीपी मुख्यालय में पिछले साल दिसंबर में गृह मंत्री के दौरे के दौरान आईटीबीपी द्वारा इन उत्पादों की एक प्रदर्शनी भी लगाई गई थी ।

  • इसके पूर्व इसी वर्ष जुलाई महीने में आईटीबीपी जवानों के लिए कुल 1 करोड़ 72 लाख 80 हज़ार रुपये की लागत से 12 सौ क्विंटल सरसों के तेल की खरीद की शुरुआत की गई थी जो किसी भी केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल में सर्वप्रथम था।

  • ऐसी संभावना है कि इसी वित्तीय वर्ष में सीएपीएफ के अस्पतालों के लिए खादी बेडशीट और पिलो कवर की खरीद हेतु केवीआईसी से समझौते पर हस्ताक्षर किये जायेंगे ।

  • आने वाले कुछ समय में यूनिफार्म, और अन्य वस्त्र आदि उत्पादों की खरीद केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों द्वारा KVIC से की जाएगी ।