Notification

×

ad

ad

आयकर विभाग का कोलकाता में बड़ा सर्च ऑपरेशन अवैध कामों का भंडाफोड़

शनिवार, 16 जनवरी 2021 | जनवरी 16, 2021 WIB Last Updated 2021-04-01T09:35:29Z
    Share

आयकर विभाग ने कोलकाता में होटल, रियल एस्टेट, ऑटोमोबाइल, फाइनेंसिंग और फलों के थोक व्यापार आदि से जुड़े व्यक्तियों और संस्थाओं पर 13 जनवरी 2021 को सर्च और सर्वे आपरेशन किया।





यह मामले विभागीय डाटाबेस में उपलब्ध आंकड़ों, व्यक्तियों और संस्थाओं के फाइनेंशियल स्टेटमेंट के विश्लेषण, बाजार से मिली खुफिया जानकारी और जमीनी स्तर पर पूछताछ के आधार पर तैयार किए गए थे।





सर्च और जब्ती आपरेशन के दौरान अवैध बिक्री से मिली नकदी, अवैध दस्तावेजों और फर्जी खर्चों के ठोस सबूत मिले हैं। तलाशी अभियान के दौरान, ऐसे अवैध दस्तावेज पाए गए हैं,  जिनसे पता चलता है कि गैर अधिसूचित कंपनियों के शेयरों की बिक्री के जरिए अवैध नकदी को अनसिक्योर्ड कर्ज / शेयर पूंजी के जरिए बही-खातों में पहुंचाया गया है। इन अवैध कामों को करने के लिए पेशवेरों की भी मदद ली गई। जिसका सर्च और जब्ती के दौरान राउंड ट्रिपिंग के रुप में खुलासा है। पेनी स्टॉक की बिक्री के जरिए गलत तरीके से बुक में घाटा दिखाना, अवैध नकदी को कर्ज के लिए अग्रिम बुकिंग और बेहिसाब कमीशन / ब्रोकरेज / ब्याज की कमाई के साक्ष्य भी पाए गए।





इस आपरेशन के दौरान 450 करोड़ रुपये से ज्यादा की आय छुपाने का मामला सामने आया है। सर्च और जब्ती के दौरान 105 करोड़ रुपये की अवैध आय की बात खुद एसेसी ने स्वीकार की है। सर्च के दौरान 1.58 करोड़ रुपये की अवैध नकदी जब्त हुई है।





इस संबंध में आगे की जांच जारी है।