Notification

×

ad

ad

युवा उद्यमियों को मिलेगा सौर ऊर्जा टेक्नालाजी में कौशल विकास प्रशिक्षण

गुरुवार, 7 जनवरी 2021 | जनवरी 07, 2021 WIB Last Updated 2021-04-01T09:35:12Z
    Share

प्रारंभ में हर जिले से दस उद्यमी होंगे शामिल मध्यप्रदेश में सौर ऊर्जा क्षेत्र solar energy में निवेश की असीम संभावनाओं और उपयोग को देखते हुए युवा उद्यमियों के लिए सौर ऊर्जा टेक्नालॉजी (solar energy technology) के क्षेत्र में कौशल विकास के लिये मध्यप्रदेश ऊर्जा विकास निगम और राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के साथ एनर्जी स्वराज फाउंडेशन 5 से 10 अप्रैल 2021 तक छह दिन का सशुल्क व्यावहारिक प्रशिक्षण दिया जायेगा।


प्रारंभिक तौर पर हर जिले से सिर्फ दस लोगों को प्रशिक्षण दिया जायेगा। यह प्रशिक्षण आई.आई.टी बॉम्बे के प्रोफेसर, एनर्जी स्वराज फाउंडेशन के संस्थापक एवं मध्यप्रदेश के सौर ऊर्जा के ब्रांड एम्बेसेडर प्रोफेसर चेतन सिंह सोलंकी और उनके मास्टर ट्रेनर्स द्वारा राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, भोपाल में दिया जायेगा।


यह भी देखे : खुशखबरी : केंद्र से जुड़े सभी विभागों को ‘Digilocker’ से जुड़ने का मिला निर्देश

प्रशिक्षण प्राप्त युवा उद्यमी सौर पी.वी. टेक्नोलॉजी एवं सिस्टम डिजाइन में सैद्धांतिक ज्ञान के अतिरिक्त सौर पी.वी. सिस्टम के इंस्टॉलेशन में पारंगत होंगे। वे सिस्टम के इंस्टालेशन की लागत-व्यय आदि की गणना सीखेंगे और साथ-साथ सोलर के वर्तमान मार्केट एवं व्यापार की संभावनाओं और नये विकल्पों से भी परिचित होंगे। प्रशिक्षण के बाद युवा उद्यमी ऑफ-ग्रिड रूफ टॉप सोलर पी.वी. सिस्टम को डिजाइन कर स्थापित कर पाएंगे।



solar energy technology किसे मिलेगा प्रशिक्षण


कोई भी आई.टी.आई/डिप्लोमा/इंजीनियरिंग/विज्ञान में स्नातक और अधिकतम 40 वर्ष आयु का व्यक्ति इस प्रशिक्षण में शामिल हो सकता है। स्नातक कर रहे विद्यार्थी या सरकारी क्षेत्र में पूर्णकालिक सेवाएँ दे रहे लोग पात्र नहीं हैं। प्रदेश के हर जिले के केवल दस लोगों को पहले-आओ-पहले-पाओ के आधार पर चुना जाएगा। प्रशिक्षण में शामिल होने की अंतिम तारीख 28 फरवरी है। आवेदन-पत्र ई-मेल (info@energyswaraj.org) पर मेल करके प्राप्त किये जा सकते हैं।


यह भी देखे : One Nation, One Gas Grid’ के लक्ष्य की तरफ बढ़ रहा है देश : PM Modi

लोकप्रिय पोस्ट