Notification

×

ad

ad

दिल्ली निदेशालय के 39 कैडेट गणतंत्र दिवस शिविर में लेंगे हिस्सा

गुरुवार, 24 दिसंबर 2020 | दिसंबर 24, 2020 WIB Last Updated 2021-04-01T09:34:53Z
    Share

राष्ट्रीय कैडेट कोर यानि एनसीसी के इस बार के गणतंत्र दिवस शिविर में दिल्ली निदेशालय के 39 कैडेट हिस्सा लेंगे. इन कैडेटों के दल को दिल्ली निदेशालय के अपर महानिदेशक मेजर जनरल आरके माथुर ने अपनी शुभकामनाओं और गर्मजोशी के साथ रवाना किया.





दिल्ली निदेशालय के कैडेट पिछले 100 दिनों से कठिन प्रशिक्षण ले रहे हैं. दिल्ली के इन कैडेटों के दल ने अपर महानिदेशक मेजर जनरल आरके माथुर से सफदरजंग एन्क्लेव स्थित ग्रुप मुख्यालय में अपना पूर्ण अभ्यास दिखाया.





गौरतलब है कि दिल्ली निदेशालय में कुल 45 हजार कैडेट हैं, जो कि आर्मी, नेवी और एयर फोर्स समेत तीन स्कंधों में प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं. गणतंत्र दिवस शिविर के लिए शुरुआत में 400 कैडेट चुने गए, जिनमें से 100 कैडेटों को चयनित किया गया. इन कैडेटों में से, इस वर्ष आरडीसी दल के लिए सर्वश्रेष्ठ 39 चुने गए हैं. हर साल सामान्य रूप से 115 कैडेटों का चयन होता था लेकिन कारोना महामारी के कारण इस साल केवल 39 कैडेट ही आरडीसी में भाग लेंगे.





सामाजिक दूरी और सख्त प्रोटोकॉल का पालन करते हुए कैडेट तमाम प्रशिक्षण ले रहे हैं और उनके उत्साह में कोई कमी नहीं.





इस साल की गतिविधियों में राजपथ परेड, सर्वश्रेष्ठ कैडेट, लाइन एरिया प्रतियोगिता और पीएम रैली शामिल रहेगी. व्यक्तिगत स्तर पर अखिल भारतीय सर्वश्रेष्ठ कैडेट प्रतियोगिता, कैडेटों के लिए अंतिम चुनौती है. इसमें कैडेट सभी निदेशालयों के कैडेटों के साथ शीर्ष पुरस्कार के लिए हिस्सा लेंगे. गणतंत्र दिवस शिविर यानि आरडीसी में देशभर के 17 एनसीसी निदेशालयों में से सबसे अच्छे निदेशालय को प्रतिष्ठित आरडीसी बैनर के लिए सम्मानित किया जाएगा.





राष्ट्रीय राजधानी के गैरीसन परेड मैदान में हर साल आयोजित होने वाले एनसीसी के गणतंत्र दिवस शिविर में देशभर के 17 विभिन्न निदेशालयों के करीब एक हजार कैडेट इस साल  हिस्सा लेंगे. पहले के वर्षों में इनकी संख्या करीब साढ़े तीन हजार हुआ करती थी.





इस शिविर का आधिकारिक रूप से उद्घाटन उपराष्ट्रपति करते हैं और इस शिविर के दौरान प्रधानमंत्री रैली जैसी गतिविधियों का भी आयोजन किया जाता है.





गिरीश निशाना, संवाददाता


ad

लोकप्रिय पोस्ट