Notification

×

ad

ad

अब PUBG को भूल जाओगे आ रहा है अपना FAU-G अक्षय कुमार लेकर आ रहे नया एक्शन गेम

शनिवार, 5 सितंबर 2020 | सितंबर 05, 2020 WIB Last Updated 2021-04-01T09:33:35Z
    Share

हमारे बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार (Akshay Kumar) जल्द ही मल्टीप्लेयर एक्शन गेम FAU-G लेकर आ रहे हैं. अक्षय ने अपने ट्विटर एकाउंट पर PUBG को टक्कर देने वाले गेम FAU-G के बारे में ट्वीट कर जानकारी दी है. इस गेम से होने वाली कमाई का 20 फीसदी हिस्सा भारत के वीर ट्रस्ट को डोनेट किया जाएगा. वीर ट्रस्ट भारत के बहादुरों को श्रद्धांजलि और समर्थन देता है.





इस बारे में उनसे बात करते हुए उन्होंने कहा 'भारत में युवाओं के लिए गेमिंग मनोरंजन का एक महत्वपूर्ण जरिया बन रहा है. FAU: G के साथ मुझे उम्मीद है कि वे हमारे सैनिकों के बलिदानों के बारे में जानेंगे और शहीदों के परिवारों के लिए भी योगदान देंगे. इसके साथ हममें से प्रत्येक के पास पीएम मोदी के आत्मनिर्भर अभियान का समर्थन करने की क्षमता होगी.'





अक्षय कुमार (Akshay Kumar) ने अपने ट्वीट में लिखा, 'पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के आत्मनिर्भर अभियान का समर्थन करते हुए एक्शन गेम FAU-G पेश करते हुए बेहद खुशी हो रही है. मनोरंजन के अलावा प्लेयर्स इसके जरिए सैनिकों के बलिदान के बारे में भी जान सकेंगे. इस गेम से होने वाली कमाई का 20 फीसदी भारत के वीर ट्रस्ट को डोनेट किया जाएगा.'






https://twitter.com/akshaykumar/status/1301832896185954304




यह खेल भारतीय सुरक्षा बलों द्वारा घरेलू और विदेशी दोनों खतरों से निपटने के लिए वास्तविक परिदृश्यों पर आधारित है. गेम को अक्टूबर के अंत में लॉन्च करने की उम्मीद है. यह गेम Google Play Store और Apple App Store पर उपलब्ध होगा.





गेमिंग प्रकाशक के संस्थापक और अध्यक्ष विशाल गोंडल कहते हैं, 'पीएम मोदी के आत्मनिर्भर अभियान का समर्थन करना और दुनिया को एक विश्व स्तरीय गेम पेश करना बहुत गर्व की बात है, जो न केवल गेमर्स को वर्चुअल सेटिंग में लड़ने में मदद करेगा, बल्कि हमारे शहीदों का समर्थन करके राष्ट्र-निर्माण में भी सकारात्मक योगदान देगा.'





बता दें कि सीमा पर चीन के साथ जारी गतिरोध के बीच भारत सरकार ने कई चीनी मोबाइल ऐप्स (Chinese mobile Apps) को बैन कर दिया था. PUBG समेत 118 और चीनी मोबाइल ऐप्स को बैन किया गया है. सरकार की तरफ से इससे पहले भी चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध लगाए गए थे.


ad

लोकप्रिय पोस्ट