Notification

×

ad

ad

Mandla Teachers day2020(मण्डला शिक्षक दिवस):-

शनिवार, 5 सितंबर 2020 | सितंबर 05, 2020 WIB Last Updated 2021-04-01T09:33:36Z
    Share

Mandla Teachers day 2020(मण्डला शिक्षक दिवस):- डॉ राधाकृष्णन जी ने शिक्षा ग्रहण काल के दौरान शिक्षा को उन्होंने समझा की एक शिक्षक ही है जो किसी के जीवन को उत्थान के तरफ ले जाने वाला है,दिशा के साथ-साथ सम्पूर्ण दशा को बदलने की ताकत रखता है।
शुरुवात से ही डॉक्टर राधा कृष्ण अपने जीवन मे शिक्षकों के शिक्षा देने वाले उत्तम कार्य से प्रेरित थे,वे चाहते रहे कि उनका जन्म दिन 5 सितम्बर को शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाए।





शिक्षक की महिमा समझें





आदर्शों की मिसाल बनकर, बाल जीवन संवारता शिक्षक।
सदाबहार फूल-सा खिलकर, महकता और महकाता शिक्षक।
नित नए प्रेरक आयाम लेकर, हर पल भव्य बनता शिक्षक।
संचित ज्ञान का धन हमें देकर, खुशियां खूब मनाता शिक्षक।
पाप व लालच से डरने की, धर्मीय सीख सिखाता शिक्षक।
देश के लिए मर मिटने की, बलिदानी राह दिखता शिक्षक।
प्रकाशपुंज का आधार बनकर, कर्तव्य अपना निभाता शिक्षक।
प्रेम सरिता की बनकर धारा, नैया पार लगता शिक्षक।





कल Mandla Teachers day (मण्डला शिक्षक दिवस) कैसे मनाएंगे बच्चे





मण्डला जिले में कोरोना काल के चलते जब दैनिक जीवन मे शिष्य और शिक्षक online विधि से जुड़े हुए हैं तथा कहीं कहीं शिक्षक,शिष्यों के घर- घर जाकर शिक्षा और प्रेरणा देकर उनको मार्गदर्शन प्रदान भी कर रहे हैं। शिक्षकों का यह त्याग देख, मंडला-रायपुर मार्ग में स्थित,औघट खपरी ग्राम में srd news उपस्थित हो वहां के लोगों से बात की जिसमे शुरुवात में,बच्चों से पूंछा गया कि आपके पसंदीदा शिक्षक कौन है। बच्चों ने बताया हमारे पसंदीदा sir जो सब के प्यारे शिक्षक के रूप में "sir श्री मनोज दुबे जी हैं।"
फिर उनसे पूंछ गया, कि आप इस शिक्षक दिवस में क्या करेंगे अपने sir जी के लिए??
तब बच्चों ने बताया कि हमारे sir हमारे अत्यंत स्नेह के करीब हैं,हम उनके द्वारा दिए गए मार्ग दर्शन का हमेशा ध्यान रखते हैं।हम देखते हैं कि वे हमारे लिए बहुत त्याग करते हैं,और जो भी विषय हमें समझाते हैं ,हम उसे शीघ्र समझने के करीब पहुंचते हैं ,और यदि हमसे कभी भूल भी हो जाये तो हमारे sir हमे कुछ ऐंसा समझा देते हैं ,कि हमे जीवन भर उनकी समझाइस स्थिर रूप से याद होती है।
हम चाहते हैं हमारे sir का कल हम आशीर्वाद ग्रहण करें और हमारे sir से प्रार्थना है कि sir हमारी भूलों को क्षमा कीजिये,और ईश्वर से प्रार्थना है कि हमारे sir हमारा सदा मार्ग दर्शन करते रहें।और इसी बीच एक बच्चा कहता है कि हम अपने sir की गीत सुनाएंगे।





शिक्षक दिवस के इस पर्व पर मण्डला जिले के सरस्वती शिशु मंदिर के छात्रों में से बिंझिया तिराहा स्थित एक घर मे srd news की टीम पहुंची वहाँ देखा कि छात्र अपने शिक्षकों के लिए ग्रीटिंग कार्ड लिख रहे हैं ,news टीम के एक सदस्यों ने पूंछा की आपके पसंदीदी शिक्षक कौन हैं तब वहाँ के अधिकांश बच्चों ने श्री राजेश नामदेव जी का नाम लिया। छात्र एवं छात्राएं कहते हैं की नामदेव आचार्य जी की पढ़ाने की तकनीक बहुत अच्छी है, बड़ी ही सरलता से कठिन से कठिन विषय को हमें समझा देते हैं,और ऐसा लगता है उनके इस व्यवहार से कि हमारा कोई परिवार का सदस्य ही हमें पढ़ा रहा हो और हम बिल्कुल स्वतंत्र होकर उनके द्वारा दी गई शिक्षा को ग्रहण कर सकते हैं।
SRd न्यूज़ की टीम ने पूछा कि आप कैसे शिक्षक दिवस मनाएंगे तब वहां के बच्चों ने कहा हम चाहते हैं हमारे "आचार्य श्री राजेश नामदेव जी"से हम फोन में बात करेंगे, कुछ छात्राएँ कहती हैं Teacher day के दिन में सबसे पहले आचार्य श्री को फोन में गीत सुनाना चाहती हूं, कुछ का कहना है कि आचार्य श्री मेरे जीवन को बहुत अच्छे तरीके से मार्गदर्शन प्रदान करते हैं, जिससे कि हम और हमारे परिवार वाले बहुत खुश हैं। और हम लोग मिलकर आचार्य श्री के लिए ग्रीटिंग कार्ड लिख रहे हैं जिसमें आचार्य श्री के बारे में हम लोग अपने-अपने अनुसार उनकी विशेषताओं का वर्णन करने के बाद आचार्य श्री को भेंट करने जा रहे हैं (पोस्ट ऑफिस के माध्यम से) क्योंकि कोरोना का काल चल रहा है,इसलिए हम चाहते हैं कि आचार्य श्री हमसे वीडियो कॉलिंग कर हमें आशीर्वाद प्रदान करें। उनकी बोलने की तकनीक हमको बहुत अच्छी लगती है और हमारे आचार्य श्री हमारे लिए बहुमूल्य हैं।
इसी तरह हमारी टीम मण्डला शहर में स्थित,निर्मला स्कूल, भारत ज्योति स्कूल,मानफोर्ड स्कूल,महर्षि स्कूल इत्यादि के छात्रों के पास जाकर उनसे पूंछा की वे शिक्षक दिवसTeachers day में कैसे तैयारी करेंगे।





अलग अलग विद्यालयों के छात्रों के समुख टीम ने जाकर पूंछा और पाया कि वे सभी अपने शिक्षक के प्रति कुछ न कुछ कल करेंगे, जिससे यह दिन उनके और उनके शिक्षक के लिए यादगार हो जाये।।


ad

लोकप्रिय पोस्ट