Notification

×

ad

ad

मोहगांव विकासखंड के गांवों में पशुओं के लिए शिविर आयोजित

शुक्रवार, 11 सितंबर 2020 | सितंबर 11, 2020 WIB Last Updated 2021-04-01T09:33:43Z
    Share

मण्डला जिले के उपसंचालक पशु चिकित्सा सेवाएँ डॉ. एम.एल.मेहरा मंडला से प्राप्त जानकारी के अनुसार राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यक्रम अंतर्गत ’पशु संरक्षण एवं संवर्धन”, ’मुहँपका खुरपका रोग का नियंत्रण एवं उन्मूलन’ दुग्ध उत्पादन में वृद्धि और पशुओं की सेहत में सुधार कर किसानों को लाभ पहुंचाने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के आव्हान पर जिले के 568298 गौवंशीय एवं भैंसवंशीय पशुओं में शत् प्रतिशत टीकाकरण अभियान 1 सितम्बर से 15 सितम्बर तक चलाया जा रहा है। इस अभियान के अंतर्गत 9 सितम्बर को ग्राम कांसखेडा, विकासखंड बिछिया एवं ग्राम पिपरदर्रा एवं खर्रछापर विकासखंड मोहगांव में शिविरों का आयोजन किया गया। शिविरों में 452 पशुओं में टीकाकरण 290 पशुओं टेगिंग में एवं 46 पशुओं में उपचार तथा 360 पशुओं के लिए कृमिनाशक एवं किलनी की दवाई वितरण की गई। शिविर में स्वस्थ कार्ड एवं नकुल कार्ड का वितरण किया गया। शिविर में डॉ. वर्षा तरवरे, डॉ. दीपाली परते, डॉ. अनामिका वरकडे़, श्रीमती सरस्वती मरावी, श्री संजय पटेल, डॉ. ज्योति मेरावी, डॉ. दुर्पत सिंह मरावी द्वारा पशुपालको से संपर्क कर लम्फी त्वचा रोग, पशु रखरखाव एवं योजना सम्बन्धी जानकारी प्रदान की गई। साथ ही पशुपालन आधार पर किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने हेतु प्रेरित किया गया। राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यक्रम अंतर्गत पूरे जिले में प्रतिदिन शिविर लगाकर टीकाकरण कार्य किया जा रहा है।





इसी प्रकार द्रोणाचार्य शिक्षा समिति मंडला के तत्वाधान में आयोजित बकरी पालन योजना विषय पर ग्राम पलेहरा विकासखंड मोहगांव में दिनांक 9 सितम्बर से 10 दिवसीय प्रशिक्षण का प्रारंभ किया गया। प्रशिक्षण में ग्राम पलेहरा, चौगान एवं बिलगांव के 11 स्व-सहायता समूह की कुल 25 महिलायें उपस्थित रही। डॉ. फूलचंद धुर्वे पशु चिकित्सा सहायक शल्यज्ञ, प.चि. लिंगापौडी द्वारा प्रशिक्षण में उपस्थित महिलाओं को बकरी पालन का महत्व, रखरखाव एवं इस व्यवसाय से होने वाले आर्थिक लाभ के बारे में अवगत कराया गया।