Notification

×

ad

ad

पूर्ण दिवसीय पर्यटन स्थल के रूप में विकसित होगा रामनगर

बुधवार, 2 सितंबर 2020 | सितंबर 02, 2020 WIB Last Updated 2021-04-01T09:33:30Z
    Share

मण्डला जिले की आज की खबर mandla जिले के केन्द्रीय इस्पात राज्यमंत्री श्री फग्गन सिंह कुलस्ते 2 सितम्बर को प्रातः 10 बजे जेवरा से प्रस्थान कर मंडला में 11 बजे मंडला पहुंचकर स्थानीय कार्यक्रम में भाग लेंगे। श्री कुलस्ते सायं 5ः30 बजे मंडला से व्हाया निवास कुण्डम जबलपुर के लिए प्रस्थान करेंगे।





केन्द्रीय इस्पात राज्यमंत्री की उपस्थिति में किया गया प्रस्तावित प्रोजेक्ट का प्रेजेन्टेशन





आदिवासी सभ्यता की थीम पर रामनगर (Ramnagar mandla) को पूर्णकालिक पर्यटन स्थल के रूप में विकसित किया जाएगा। ’आदि शरण्य वरूण वन’ प्रोजेक्ट के माध्यम से ऐतिहासिक धरोहरों से छेड़खानी किए बिना क्षेत्र का सौंन्दर्यीकरण किया जाएगा। इस संबंध में केन्द्रीय इस्पात राज्यमंत्री श्री फग्गन सिंह कुलस्ते की उपस्थिति में संपन्न हुई इस बैठक में प्रस्तावित कार्ययोजना का प्रेजेन्टेशन किया गया।





कलेक्ट्रेट के गोलमेज सभाकक्ष में संपन्न हुई इस बैठक में कलेक्टर हर्षिका सिंह, सीईओ जिला पंचायत तन्वी हुड्डा सहित संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे। इस अवसर पर केन्द्रीय इस्पात राज्यमंत्री श्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने कहा कि मंडला जिले में पर्यटन की असीम संभावनाएं है। रामनगर के लिए प्रस्तावित ’आदि शरण्य वरूण वन’ प्रोजेक्ट आदिवासी संस्कृति के संरक्षण व संवर्धन में मील का पत्थर साबित होगा।





इस प्रोजेक्ट के माध्यम से पर्यटकों को आकर्षित करने का प्रयास किया जाएगा। पर्यटक इस स्थल पर लगभग 6 से 7 घंटे का समय व्यतीत कर सकेंगे। 4 जोन में विभाजित इस प्रोजेक्ट के तहत् सभी आयु वर्ग की रूचि को ध्यान में रखते हुए गतिविधियां प्रस्तावित की जा रही हैं। इस प्रोजेक्ट के माध्यम से स्थानीय लोगों को स्थायी रोजगार मिल सकेगा। केन्द्रीय इस्पात राज्यमंत्री ने रामनगर के सौंन्दर्यीकरण के लिए स्थानीय परिवेश का समावेश करते हुए चरणबद्ध कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश दिए हैं।





बैठक में कलेक्टर हर्षिका सिंह ने कहा कि प्रस्तावित प्रोजेक्ट में रामनगर (Ramnagar mandla) के ऐतिहासिक महलों के मूल स्वरूप में किसी भी प्रकार की छेड़खानी किए बगैर बाहरी ओर निर्माण कार्य कराये जाएंगे। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को इस प्रोजेक्ट के संबंध में प्रारंभिक तैयारियां पूर्ण करने के निर्देश दिए।





प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना ने बदली नूरी अली की तकदीर










मण्डला जिले की आज की खबर लॉकडाऊन के कारण आर्थिक संकट से जूझ रही नूरी अली के लिए प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना एक वरदान बनकर सामने आई। उसने बैंक से 10 हजार का ऋण लेकर अपना व्यवसाय प्रारंभ किया और अब वह प्रतिदिन 300 रूपये की कमाई कर रही है।





नूरी अली ने बताया कि मुझे प्रधानमंत्री स्व-निधि योजना के तहत् नगरपालिका परिषद मण्डला से 10 हजार रूपये कार्यशील पूँजी नगरपालिका परिषद मण्डला जिला- मण्डला की पंजाब नेशनल बैंक मंडला की शाखा द्वारा 14 अगस्त 2020 को प्राप्त हुये। मैं विगत 10 वर्षाे से फुटपाथ में गिरमा रस्सीश एवं झाडू की दुकान लगाकर अपनी एवं परिवार की आजीविका चलाती थी। कोरोना महामारी में लॉकडाउन के कारण मुझे अपनी दुकान बंद करनी पड़ी।





यह भी देखे : 3 दिवस में सर्वे पूर्ण कर प्रभावितों को राहत दिलाएं





आजीविका का कोई साधन न रहा जो भी जमा बचत थी खर्च हो गयी। लॉकडाउन खुलने के पश्चात जब मुझे योजना की जानकारी मिली तब मैंने अपना पंजीयन कराया एवं नगरपालिका परिषद मण्डला से ऑनलाईन ऋण आवेदन के माध्यम से प्रधानमंत्री जी की योजना से 10 हजार रूपये ऋण पंजाब नेशनल बैंक मंडला से प्राप्त कर एक बार फिर से अपना व्यवसाय प्रारंभ किया। वर्तमान में प्रतिदिन 300 रूपये की कमाई कर रही हूं।





नूरी अली ने कहा मैं और मेरा पूरा परिवार प्रधानमंत्री जी एवं मुख्यमंत्री के साथ-साथ नगरपालिका स्टॉ्फ का हृदय से धन्यवाद करती हूं जिन्होने सही समय में मुझे योजना की जानकारी दी जिससे मैं सही समय पर योजना से जुड़ पाई एवं पूर्व की तरह रोजगार करने लगी।





अधिक जानकारी के लिए हमें टेलीग्राम और ट्विटर पर फोलो करे





यह भी देखे : चीन की फिर घुसपैठ, LAC पर 3 दिन में तीसरा प्रयास विफल


ad

लोकप्रिय पोस्ट