Notification

×

ad

ad

PM मोदी को छोड़कर हर किसी को सेना पर विश्वास , चीन से तनाव को लेकर राहुल गाँधी ने कहा ,

रविवार, 16 अगस्त 2020 | अगस्त 16, 2020 WIB Last Updated 2021-04-01T09:33:04Z
    Share

राहुल गांधी ने चीन के साथ विवाद पर सरकार को घेरते हुए कहा कि भारत सरकार लद्दाख मामले में चीनी इरादों का सामना करने से डर रही है. राहुल ने कहा कि देश की सेना पर हर एक भारतीय को भरोसा है लेकिन प्रधानमंत्री को नहीं है.लद्दाख मामले में सरकार पर बरसे राहुल गांधी ने
कहा, सबको भारतीय सेना की क्षमता पर भरोसा
पूर्वी लद्दाख में चीन के साथ जारी विवाद पर राहुल गांधी ने एक ट्वीट में लिखा है कि देश के हर नागरिक को भारतीय सेना की क्षमता पर भरोसा है, केवल देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को छोड़कर.
राहुल गांधी ने ट्वीट में लिखा है, 'हर कोई भारतीय सेना की क्षमता और वीरता में विश्वास करता है, पीएम को छोड़कर, जिनकी कायरता ने चीन को हमारी जमीन लेने की अनुमति दी. जिनके झूठ से यह सुनिश्चित होगा कि वे इसे बनाए रखेंगे.'
बता दें, चीन के मुद्दे पर केंद्र सरकार पर लगातार हमला बोलने वाले कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने रविवार को एक बार फिर सरकार पर निशाना साधा. राहुल गांधी ने चीन के साथ विवाद पर सरकार को घेरते हुए कहा कि भारत सरकार लद्दाख मामले में चीनी इरादों का सामना करने से डर रही है. राहुल ने कहा कि देश की सेना पर हर एक भारतीय को भरोसा है लेकिन प्रधानमंत्री को नहीं है.
इससे पहले राहुल गांधी ने शुक्रवार को एक ट्वीट कर मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा था कि भारत सरकार लद्दाख मामले में चीनी इरादों का सामना करने से डर रही है. जमीन पर मौजूद साक्ष्य इस ओर इशारा करते हैं कि चीन खुद को तैयार कर रहा है और अपनी स्थिति मजबूत बना रहा है. प्रधानमंत्री की निजी तौर पर साहस की कमी और मीडिया की चुप्पी के कारण भारत को इसकी भारी कीमत चुकानी पड़ेगी.





कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी कोरोना संक्रमण को लेकर भी मोदी सरकार पर निशाना साधते रहे हैं. अपने ट्वीट में राहुल गांधी ने लिखा कि भारत में कोरोना का ग्राफ (कोरोना कर्व) भयावह होता जा रहा है न कि सपाट हो रहा है. उन्होंने ट्वीट में प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधते हुए लिखा, अगर ये PM की 'संभली हुई स्थिति' है तो 'बिगड़ी स्थिति' किसे कहेंगे?. देश में लगातार बढ़ रहे कोरोना मामलों को देखते हुए राहुल गांधी ने सरकार से यह सवाल किया. इससे पहले भी वे कोरोना टेस्ट और लॉकडाउन को लेकर सरकार को कई बार घेर चुके हैं.


ad

लोकप्रिय पोस्ट