Notification

×

ad

ad

मंडला पुलिस ने पकड़ा नक्सलीयों के मददगार को

शनिवार, 15 अगस्त 2020 | अगस्त 15, 2020 WIB Last Updated 2021-04-01T09:33:01Z
    Share

मप्र छत्तीसगढ़ की सीमा पर तेजी से नक्सल मूवमेंट बढ़ा है। नक्सली बालाघाट के बाद मंडला डिंडौरी तक अपनी ताकत बनाने के लिए सक्रिय है। गत दिवस जिले के मोतीनाला थाना पुलिस ने मंगली के जंगल से नक्सलीयों के मददगार को पकड़ा है। जो नक्सली के लिए जूते चप्पल और खाने पीने का सामन ले जा रहा था। पंडी टिकरा का रहने वाला आरोपी मददगार किसी दूसरे ग्रामीण को मंगली में लगने वाले बाजार में पहुंचाया था। इस दौरान पुलिस ने उसे ट्रेस कर धरदबोचा है। छह माह के भीतर यहां दूसरा मददगार पुलिस के हाथ लगा है।





मंडली पड़ी टिकरा के जंगल में घूमता मिला





बताया गया है कि मंडला के मोतीनाला मवई और छत्तीसगढ़ सीमा क्षेत्र नक्सलीयों के निशाने पर है। यहां पुलिस फोर्स लगातार पैनी नजर रखने के साथ सर्चिग कर रही है। गत दिवस मोतीनाला पुलिस को खबर मिली कि एक व्यक्ति जरूरतो के समान ले जाने की फिराक में है। पुलिस ने तुरंत एक्शन लिया और मंडली पड़ी टिकरा के जंगल में घूमता मिला। पूछताछ में आरोपी ने अपना नाम प्रेम सिंह पिता भोलू सिंह धुर्वे 27 वर्ष निवासी पंडी टिकरा बताया है। आरोपी ने बताया है कि किसी दूसरे ग्रामीण की मदद से दो हजार रूपए देकर रविवार को लगने वाली बाजार में दो जोड़ी जूते चप्पल के साथ खाने पीने की सामग्री लाने के लिए भेजा था। यहां काम भी हो गया था लेकिन जूते के साईज में अंतर के कारण वह पकड़ा गया है हलांकि किसी भी संगठन का जिक्र नहीं किया है।





आपत्तिजनक पर्चे मिले





इनका कहना है





इसके पहले भी मोतीनाला पुलिस ने 21 नवबंर 2018 को भिमौरी गांव के शंकर लाल धुर्वे को नक्सलीयों की मदद करने पर गिरफ्तार किया था,आरोपी के पास वायर एक बैटरी 12 वॉट, पटाखे रस्सी बम के तीन पैकेट,8 सेल व आपत्तिजनक लेखन सामग्री पर्चे मिले। वहीं दस जुलाई की रात्रि को बालाघाट पुलिस ने लांजी थाना के देवरबेली चौकी क्षेत्र के पुजारी टोला इलाके में पुलिस ने मुठभेड़ में पांच सदस्यीय दल में दो इनामी नक्सलियों को मार गिराने के बाद मंडला बालाघाट पुलिस को अलर्ट किया गया है।





आरोपी को नक्सली की मदद के लिए मंगली के जंगल से पकड़ा गया। पूछताछ में अधिक जानकारी नहीं लगी।कि वह किस संगठन का है, पुलिस फोर्स अलर्ट है,हर गतिविधियों पर नजर रखी जा रही है। रविशंकर डेहरिया,डीआईजी,बालाघाट






ad

लोकप्रिय पोस्ट