Notification

×

ad

ad

कांग्रेस में 'बब्बर शेर' कहे जाने वाले राजीव त्यागी का निधन

गुरुवार, 13 अगस्त 2020 | अगस्त 13, 2020 WIB Last Updated 2021-04-01T09:32:55Z
    Share

राजीव त्यागी ने राजनीति की शुरुआत राष्ट्रीय लोकदल से की थी. वे गाजियाबाद में राष्ट्रीय लोकदल के जिला अध्यक्ष थे. जनवरी 2006 में वे कांग्रेस में शामिल हुए. लेकिन राष्ट्रीय लोकदल में रहते हुए वे पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी को काला झंड़ा दिखाकर चर्चा में आ चुके थे.





  • गाजियाबाद में एमबीए की पढ़ाई की




  • RLD से की करियर की शुरुआत




  • प्रियंका की टीम के अहम सदस्य बने 




कांग्रेस प्रवक्ता राजीव त्यागी के निधन की खबर मीडिया में बिजली की तेजी से दौड़ गई. निधन से कुछ घंटे पहले तक वे स्वस्थ दिख रहे थे. टीवी चैनलों पर पूरी बेबाकी और मजबूती से कांग्रेस का पक्ष रखने वाले राजीव त्यागी देश के हर ज्वलंत मुद्दे पर पार्टी और अपनी राय रखते थे.





आजतक पर बुधवार को भी वह कांग्रेस की ओर से डिबेट में शामिल हुए. तब तक किसी को इस मनहूस पल का जरा सा भी आभास नहीं था. 





  • राजीव त्यागी यूपी के बिजनौर के रहने वाले थे. 




  • राजीव त्यागी ने राजनीति की शुरुआत राष्ट्रीय लोकदल से की थी. 




  • वे गाजियाबाद में राष्ट्रीय लोकदल के जिला अध्यक्ष थे. जनवरी 2006 में वे कांग्रेस में शामिल हुए.




जब वाजपेयी देश के प्रधानमंत्री थे उस दौरान उन्होंने गाजियाबाद का दौरा किया था. इसी दौरान राष्ट्रीय लोकदल में रहते हुए राजीव त्यागी ने वाजपेयी को काला झंडा दिखाया था.राजीव त्यागी लगातार संघर्षशील रहने वाले और किसानों की मांगों के लिए लड़ने वाले नेता थे. उन्होंने बीजेपी नेता लालजी टंडन को वसुंधरा आवास विकास परिषद में हुए घपले और किसानों की मांगों को लेकर गेस्ट हाउस में बंद कर दिया था.





कांग्रेस में तेजी से आगे बढ़े





कांग्रेस में आने के बाद अपनी वाकपुटता के दम पर वे तेजी से आगे बढ़े. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने उन्हें अपनी टीम में अहम जिम्मेदारी थी और उन्हें यूपी कांग्रेस का महासचिव नियुक्त किया था. हाल के दिनों में वह प्रियंका गांधी के साथ पार्टी के विस्तार में लगे थे. लगभग 15 साल तक कांग्रेस में रहने वाले राजीव त्यागी पार्टी की विचारधारा के प्रति समर्पित नेता थे.





इस दौरान राहुल जी  ने कहा कांग्रेस ने खोया बब्बर शेर









राजीव त्यागी के निधन पर राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा ने गहरा शोक जताया है. राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस ने आज अपना एक बब्बर शेर खो दिया. राजीव त्यागी के कांग्रेस प्रेम और संघर्ष की प्रेरणा हमेशा याद रहेंगे. उन्हें मेरी भावभीनी श्रद्धांजलि व परिवार को संवेदनाएं.





प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा है कि भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के प्रवक्ता राजीव त्यागी जी की असामयिक मृत्यु मेरे लिए एक व्यक्तिगत दुःख है. हम सबके लिए अपूरणीय क्षति है, राजीव जी विचारधारा समर्पित योद्धा थे. समस्त यूपी कांग्रेस की ओर से परिजनों को हृदय से संवेदना. ईश्वर उनके परिवार को दुख सहने की शक्ति दे.


ad

लोकप्रिय पोस्ट