Notification

×

ad

ad

गिले-शिकवे दूर कर मिले गहलोत-पायलट राजस्थान में सियासी घमासान खत्म हुआ

शुक्रवार, 14 अगस्त 2020 | अगस्त 14, 2020 WIB Last Updated 2021-04-01T09:32:57Z
    Share

राजस्थान में 14 अगस्त से विधानसभा का सत्र शुरू होने वाला है. राज्य सरकार का कहना है कि इस सत्र में सिर्फ कोरोना वायरस के संकट, लॉकडाउन के बाद की स्थिति और अन्य मुद्दों पर चर्चा होगी.





  • अशोक गहलोत से मिले पायलट
  • कांग्रेस विधायक दल की बैठक




राजस्थान में पिछले कुछ दिनों से सियासी घमासान मचा हुआ है. हालांकि अब कांग्रेस में बागी तेवर दिखा चुके सचिन पायलट फिर से पार्टी के साथ खड़े दिखाई दे रहे हैं. इस बीच अब सचिन पायलट ने राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के साथ मुलाकात की. सचिन पायलट और उनके समर्थक विधायक सीएम अशोक गहलोत से उनके आवास पर मुलाकात करने पहुंचे. सीएम आवास में हुई विधायक दल की बैठक में भी पायलट गुट के विधायक शामिल हुए.





शीघ्र अपडेट के साथ :-





6.47PM  सीएम गहलोत के आवास पर कांग्रेस विधायकों की बैठक खत्म हो गई है.





6.41PM  राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि हम विधानसभा में विश्वास मत खुद लाएंगे. अशोक गहलोत ने कहा कि किसी भी एमएलए की शिकायत है, उसे दूर करेंगे.





6.39PM मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने संबोधन में कहा कि जो बातें हुई, उन्हें भुला दें. हम इन 19 एमएलए के बिना भी बहुमत साबित कर देते, लेकिन वह खुशी नहीं होती. अपने, अपने होते हैं.





6.28PM राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे राज्यपाल कलराज मिश्र से मिलने राजभवन गई हैं.





6.11 PM सचिन पायलट ने अपने संबोधन में डिप्टी सीएम पद के लिए सोनिया गांधी और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को धन्यवाद दिया. पूर्व पीसीसी अध्यक्ष के तौर पर 6 साल के कार्यकाल में मिले सहयोग के लिए भी पायलट ने सभी का आभार जताया.





6.10PM मुख्यमंत्री आवास पर कांग्रेस विधायक दल की बैठक जारी है, जहां सबसे पहले पीसीसी अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने संबोधन दिया. उन्होंने बीजेपी पर राजस्थान में सरकार गिराने के षड्यंत्र रचने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि बीजेपी की अंग्रेजों की तरह फूट डालो राज करो की नीति है. हालांकि राजस्थान में यह षड्यंत्र विफल हो गया.





5.50PM राजस्थान में कांग्रेस विधायक दल की बैठक जारी है.





5.37PM सीएम अशोक गहलोत और सचिन पायलट की मुलाकात हुई. हालांकि कोरोना के कारण लगाए गए मास्क से यह पता नहीं चल पाया कि अशोक गहलोत और सचिन पायलट इस मुलाकात के बाद कितने खुश हैं और चेहरे के भाव क्या हैं.





5.18PM कांग्रेस विधायक दल की बैठक में कांग्रेस जिंदाबाद के साथ ही सोनिया गांधी, राहुल गांधी, अशोक गहलोत और सचिन पायलट के समर्थन में नारे लगे. बैठक में अभी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट नहीं आए हैं. फिलहाल विधायक राजेंद्र गुढ़ा बोल रहे हैं.





5.13PM पायलट कैंप के विधायक भंवरलाल शर्मा और गहलोत समर्थक विधायक संयम लोढ़ा ने मुख्यमंत्री निवास में एक साथ तस्वीर खिंचवाई.





5.02PM अशोक गहलोत गुट के विधायकों को होटल से सीएम आवास लाया गया.





इससे पूर्व:- 





4.39PM अशोक गहलोत और सचिन पायलट की बातचीत कराने के लिए कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल भी मुख्यमंत्री निवास पहुंच गए हैं.





4.38PM मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सचिन पायलट समेत उनके सभी समर्थक विधायकों को फोन कर खुद बुलाया है और बातचीत की है.





4.30PM विधायक दल की बैठक से आधा घंटा पहले ही सचिन पायलट मुख्यमंत्री निवास में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मिलने पहुंचे हैं.





कई विधायक नाराज





बगावत करने वाले सचिन पायलट एक बार फिर कांग्रेस के पास पहुंच गए हैं. गुरुवार शाम को होने वाली कांग्रेस विधायक दल की बैठक में अशोक गहलोत के समर्थक विधायकों के साथ ही सचिन पायलट गुट के विधायक भी शामिल होने वाले हैं. हालांकि पायलट गुट की वापसी से कई विधायक नाराज भी बताए जा रहे हैं.





खास बात यह है कि राजस्थान में 14 अगस्त से विधानसभा का सत्र शुरू होने वाला है. राज्य सरकार का कहना है कि इस सत्र में सिर्फ कोरोना वायरस के संकट, लॉकडाउन के बाद की स्थिति और अन्य मुद्दों पर चर्चा होगी. हालांकि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने ऐलान किया है कि वो 14 अगस्त को ही सदन में अविश्नास प्रस्ताव लाएगी.





वहीं राजस्थान में कांग्रेस अपने मनमुटाव तेजी से दूर करने में लगी हुई है. इसी क्रम में सचिन पायलट गुट के दो बड़े चेहरों भंवरलाल शर्मा और विश्वेंद्र सिंह को उनके पद पर बहाल कर दिया गया है. पार्टी ने इन दोनों ही नेताओं का कांग्रेस से निलंबन वापस ले लिया है.


ad

लोकप्रिय पोस्ट