Notification

×

ad

ad

अंधविश्वास : बाघ के अंगों से पैसा कमाने की चाहत में हो रही थी तंत्र पूजा

शनिवार, 6 जून 2020 | जून 06, 2020 WIB Last Updated 2021-04-01T09:32:42Z
    Share

Seoni khawasa :- अगर रक्षक ही भक्षक बन जाय तो हमारे देश का क्या होगा एसे ही एक बहुत शर्मनाक और अंधविश्वास से भरा मामला सामने आया है पैसों की लालच में फंसे वनों की रक्षा करने वाला वनरक्षक का मामला सामने आया है वनरक्षक समेत चार लोगो की गिरफ्तारी हुई है, जानकारी के अनुसार मामला Seoni khawasa वन परिक्षेत्र के रिड्डी गांव का है





किये गय वन्य प्राणियों के अंग बरामद | Seoni khawasa





अंधविश्वास में आकर पैसा कमाने की चाह में एक वनरक्षक समेत चार लोग वन विभाग के हत्थे चढ़ गए मामला दक्षिण सामान्य वन मंडल khawasa के रिड्डी ग्राम के पास का है । इस मामले में वन विभाग ने बनरक्षक को निलंबित कर दिया है जबकि एक फरार आरोपी की तलाश शुरु कर दी गई है। हालांकि जब्त अंग बाघ के हैं या नहीं इसकी जांच के लिए | उन्हें फारेंसिक लैब भेजा जाएगा ।





seoni khawasa ser kand
seoni khawasa




यह है मामला





जानकारी के अनुसार खवासा वन परिक्षेत्र के रिड्डी गांव के पास रात में शिव मंदिर में घंटिया बजाने और मंत्र पढ़ने की आवाज आ रही थी । वन अमले ने शंका होने पर जब जांच की तो पता लगा कि कुछ लोग बाघों के अंगों को रखकर तंत्र मंत्र कर पूजा कर रहे हैं । मौके से एक आरोपी भाग निकला जबकि चार पकड़ में आ गए । पकड़े गय लोगों ने बताया कि वे पैसा कमाने के लिए तंत्र विद्या कर पूजा कर रहे थे। पकड़े गए लोगों से एक दांत, दो नाखून और मूंछ के आठ बाल बरामद किए गए है।





Seoni khawasa वनरक्षक मुख्य आरोपी





इस मामले में खवासा परिक्षेत्र के पुलपुला बीट में पदस्थ वनरक्षक सुनील मर्सकोले ही इस घटना का मुख्य सूत्रधार है। उसने बताया था कि दो माह पहले उसे गश्त के दौरान पोटली मिली थी जिसमें बाघ के कुछ अंग मौजूद थे। पैसा कमाने की चाह में उसने सिल्लारी पिंडरई निवासी खेमराज सलामे, रामकिशोर सलामे और राजू बरकड़े को अपने साथ ले गया था। बालाघाट के कटंगी का रहने वाला ओझा फरार है । सभी पर वन्य प्राणी संरक्षण अधिनियम 1972 की धारा 39(2,3,3 (ख)),48 क. 50(4,5,6,)51,52 के तहत मामला दर्ज किया है । चारों को जेल भेज दिया गया है।





सीसीएफ, सिवनी का कहना है





चार आरोपियों में से एक आरोपी वनरक्षक है जिसे निलंबित कर दिया गया है । जब्त अंगों की पहचान के लिए उन्हें फारेंसिक लैब भेजा जाएगा। मामले की छानबीन की जा रही है।





आरएस कोरी, सीसीएफ, सिवनी





अधिक जानकारी के लिए हमें टेलीग्राम और whatsapp पर join करे





seoni khaaad beej




खाद बीज का वितरण शुरु,खेतों में जुताई जारी | seoni news


ad

लोकप्रिय पोस्ट