Notification

×

ad

ad

मिलेगा आबादी भूमि का मालिकाना हक मुख्यमंत्री श्री चौहान |Mp news

शनिवार, 30 मई 2020 | मई 30, 2020 WIB Last Updated 2021-04-01T09:32:33Z
    Share

इतिहास में पहली बार ग्रामीणों को "स्वामित्व योजना" ( swamitva yojana ) का लाभ मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि अभी तक भारत में ग्रामीण क्षेत्र में आबादी की भूमियों का सर्वेक्षण और अभिलेख का कार्य नहीं किया गया था। ग्रामीण क्षेत्रों में बड़ी-बड़ी आवासीय सम्पत्ति होने पर भी वे ग्रामीणों की आड़े वक्त पर काम नहीं आ पाती थी। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने ग्रामीण भारत की इस समस्या को समझा तथा इतिहास में पहली बार ग्रामीणों को उनकी आबादी भूमि का मालिकाना हक देने के लिये "स्वामित्व योजना" (swamitva yojana) प्रारंभ की है। इस योजना के प्रथम वर्ष में प्रदेश के 10 जिलों का चयन किया गया है। शेष जिले अगले वर्ष लिये जायेंगे।





मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि swamitva yojana योजना के अंतर्गत ग्रामीण आबादी क्षेत्र का सर्वे किया जाकर अधिकार अभिलेख तैयार किये जायेंगे। ग्रामीण जनता को उनके भूखण्ड पर मालिकाना हक प्रदान किये जाने के प्रमाण स्वरूप उन्हें स्वामित्व अभिलेख प्रदाय किये जायेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि ग्रामीणों के लिये यह योजना वरदान बनेगी। ग्रामवासियों को आबादी भूमि का मालिकाना हक मिलने से उन्हें सम्पत्तियों पर बैंक से ऋण लेना भी संभव होगा। पंचायतों को भी इस योजना से आय साधन बढ़ेंगे।





रोजगार सेतु" योजना के अंतर्गत सर्वेक्षण प्रारंभ





कुशल प्रवासी मजदूरों के लिये योजना बनाने वाला मध्यप्रदेश पहला राज्य, प्रदेश में टिड्डी दल से बचाव के समस्त उपाय
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में कुशल प्रवासी मजदूरों को उनके कौशल के अनुरूप उद्योगों, नियोजनों, निर्माण कार्यों आदि में कार्य देने के लिये "रोजगार सेतु" योजना प्रारंभ की गयी है। इस प्रकार की योजना बनाने वाला मध्यप्रदेश देश का पहला राज्य है। योजना के अंतर्गत प्रत्येक ग्राम पंचायत में कुशल प्रवासी मजदूरों के सर्वेक्षण का कार्य भी प्रारंभ कर दिया गया है।





मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सर्वेक्षण के दौरान प्रत्येक ग्राम पंचायत में आये प्रवासी मजदूरों के संबंध में उनके कौशल सहित अन्य जानकारी एकत्रित की जा रही है। वहीं दूसरी ओर उद्योगों, कारखानों, नियोजनों आदि से जानकारी एकत्रित की जा रही है कि उन्हें किस कौशल के मजदूरों की आवश्यकता है। इस प्रकार एक रोजगार सेतु का निर्माण किया जा रहा है जिसके माध्यम से कुशल मजदूरों को उनके कौशल के अनुसार कार्य मिल सकेगा, वहीं उद्योगों, नियोजनों, निर्माण कार्यों के लिये कुशल श्रमिक आसानी से उपलब्ध हो सकेंगे।





टिड्डी दल से बचाव के समस्त उपाय | tiddi dal





मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में टिड्डी दल ( tiddi dal ) का आक्रमण हुआ था परंतु तत्परतापूर्वक इनके आक्रमण से फसलों को बचाने तथा इन्हें भगाने की पुख्ता व्यवस्था की गयी। खेतों में धुंआ करना, जोर-जोर से आवाज करना, बिना साइलेंसर के ट्रेक्टर चलाना, दवाओं का स्प्रे करना आदि सारे प्रयास किये जा रहे हैं। बड़ी संख्या में टिड्डी दल मारा भी गया है। हम किसानों का नुकसान नहीं होने देंगे।





अधिक जानकारी के लिए हमें टेलीग्राम और ट्विटर पर फोलो करे





Pradhan Mantri Kisan Maandhan Yojana




किसान भाई प्रधानमंत्री मान धन योजना का लें लाभ|Maandhan Yojana





टिड्डी दल सिवनी




अन्नदाता सावधान : जिले में आज टिड्डी दल ( tiddi dal...


ad

लोकप्रिय पोस्ट