Notification

×

ad

ad

सावधान : करोड़ों भारतीयों का डेटा लीक |indian cyber security news

सोमवार, 25 मई 2020 | मई 25, 2020 WIB Last Updated 2021-04-01T09:32:29Z
    Share

Cyber security news :- सावधान हो जाये देश बड़ी चौकाने बाली खबर आई है करोड़ों भारतीयों का महत्वपूर्ण डाटा हो गया है लीक देश में नौकरी ढूंढ़ने वाले करीब तीन करोड़ लोगों की जरूरी जानकारियां इंटरनेट पर लीक हो गई हैं। वहीं करीब 2,000 भारतीयों के पहचान पत्र जिनमें आधार कार्ड भी शामिल हैं, वो भी हैकिंग फोरम पर लीक देखे गए हैं। cyber threat intelligence से जुड़ी फर्म साइबर ने ये जरूरी जानकारी साझा की है।





indian cyber security news 2020





24 मई को लिखे अपने ब्लॉग में कंपनी ने बताया है कि पिछले 12 घंटे के भीतर भारतीयों के आधार कार्ड से जुड़ी जानकारी भी हैकर्स ने अलग अलग फोरम पर साझा किया है। हालांकि, ये जानकारियां कहां से लीक की जा रही हैं, इस बारे में अब तक कोई खुलासा नहीं हो पाया है। फर्म की तरफ से बताया गया है कि लीक हुए डाटा में मध्य प्रदेश के नागरिकों से जुड़ी 18 लाख लोगों की जानकारियां एक्सेल शीट के फॉर्मेट में इंटरनेट पर उपलब्ध हैं।





चोरों ने हैकिंग फोरम में करीब 2.3 जीबी की जिप फोल्डर शेयर किया





साथ ही, दिल्ली एनसीआर, कर्नाटक, पुणे, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, मुंबई समेत देश के कई बड़े शहरों से जुड़े लोगों के और नौकरी से जुड़ी कई वेबसाइट्स के डाटा लीक होने का दावा किया गया है। कंपनी ने 22 मार्च को बताया था कि डार्क वेब (cyber threats) साइबर चोरों ने हैकिंग फोरम में करीब 2.3 जीबी की जिप फोल्डर शेयर किया था, जिसमें 2.9 करोड़ लोगों से जुड़ी जानकारियां हैं। जानकारी के मुताबिक उस फोल्डर में भारत में नौकरी तलाश कर रहे लोगों की अहम जानकारियां मसलन उनके नाम, पता, शिक्षा, मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी जैसी अहम जानकारियां मौजूद थीं।





फर्म का कहना है कि वो अभी जानकारी लीक करने वाले लोगों का पता लगाने में जुटे हैं लेकिन शुरुआती जानकारी के मुताबिक ये काम किसी रिज्यूम एग्रीगेटर का लगता है जिसने नौकरी देने वाले तमाम पोर्टल से आंकड़े इकट्ठा किए होंगे। कई लोगों से जुड़ी अहम जानकारियां शामिल हैं।





स्पैम ईमेल और एसएमएस भेज रहे : cyber security news





cyber attacks :- जानकारों का दावा है कि साइबर सुरक्षा से खिलवाड़ करने वाले चोर ऐसी ही निजी जानकारियों का इस्तेमाल कर लोगों को स्पैम ईमेल और एसएमएस भेजकर उन्हें अपना शिकार बनाते हैं।





indian cyber security news
cyber security




ऐसे लोग स्पैम ईमेल में नौकरी का झांसा देने वाली जानकारी भेजने या फिर लॉटरी की रकम देने का दावा करता हुआ लिंक भेजते हैं जिसे क्लिक करते ही व्यक्ति का मोबाइल या फिर लैपटॉप उनके कब्जे में चले जाने की आशंका रहती है।





indian cyber security advice





सरकार की सलाह गृह मंत्रालय की तरफ से साइबर सुरक्षा cyber security को मजबूत करने के लिए चलाए जा रहे अभियान वाले ट्विटर हैंडल साइबर दोस्त में साफ कहा गया है कि ऐसे लोगों से सावधान रहें। सरकार कहती है कि याद रखें इंटरनेट पर मिलने वाली बहुत कम सामग्रियां मुफ्त होती हैं। मुफ्त में चीजें देने के एवज में साइबर ठग आप को फंसा सकते हैं, इसलिए ऑनलाइन फ्री ऑफर्स से सावधान रहें। यही नहीं, जॉब सर्च पोर्टल रजिस्ट्रेशन के लिए भी गृह मंत्रालय की तरफ से सलाह दी गई है कि ऐसी जगहों पर रजिस्ट्रेशन के पहले भली-भांति उनकी प्राइवेसी पॉलिसी को पढ़ लें ताकि आपको पता रहे कि आपकी जानकारी का किन हाथों में इस्तेमाल किया जाने वाला है।





यह बड़ा खतरा | cyber attacks





साइबर मामलों के विशेषज्ञ पवन दुग्गल ने SRDnews से बातचीत में इस लीक को भविष्य के लिहाज से बेहद गंभीर बताया है। उन्होंने कहा कि अमूमन ऐसी जानकारियां लोग बेचते हैं लेकिन मुफ्त में ये तमाम चीज़े साइबर स्पेस के लिए बड़ा खतरा बन गई हैं। पवन दुग्गल के मुताबिक इनमें 2.9 करोड़ लोगों की निजी जानकारियों के साथ-साथ उनके स्कूल और नौकरियों के संस्थानों से जुड़ी अहम जरूरी जानकारियां होंगी जो आने वाले दिनों में सभी के लिए खतरा पैदा कर सकती हैं। उन्होंने कहा कि भारत अगर अब भी साइबर सुरक्षा और उससे जुड़े कानूनों के प्रति गंभीर नहीं होता है तो आने वाले दिनों में भयानक परिणाम देखने पड़ सकते हैं।


लोकप्रिय पोस्ट