Notification

×

ad

ad

कोरोना से हुईं मृत्यु का एनालिसिस कर रिपोर्ट दें - CM shivraj

शुक्रवार, 29 मई 2020 | मई 29, 2020 WIB Last Updated 2021-04-01T09:32:31Z
    Share

mp news :- Cm shivraj singh chauhan ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना से हुई एक-एक मृत्यु का डिटेल्ड एनालिसिस कर नियमित रूप से रिपोर्ट दें। Cm shivraj ने कहा हमें कोरोना मरीजों को सर्वोत्तम इलाज उपलब्‍ध करवाकर कोरोना मृत्यु-दर को कम करना है। इलाज में थोड़ी भी लापरवाही होने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कोरोना कार्य में लापरवाही पाए जाने पर दो अधिकारियों को निलंबित करने के निर्देश दिए।





थोड़ी भी लापरवाही पर होगी सख्त कार्रवाई, Cm shivraj singh chauhan





Cm shivraj ने कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा की मुख्यमंत्री श्री चौहान आज मंत्रालय में वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश में कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा कर रहे थे। इस अवसर पर स्वास्थ्य मंत्री डॉ. श्री नरोत्तम मिश्र, मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, डीजीपी श्री विवेक जौहरी, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य श्री मोहम्मद सुलेमान तथा प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा श्री संजय शुक्ला आदि उपस्थित थे।





अनावश्यक रूप से मरीजों को दूसरे अस्पताल में रैफर न करें





मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि जिन जिलों/अस्पतालों में कोविड इलाज की सुविधा उपलब्ध है, वे अनावश्यक रूप से मरीजों को दूसरे जिले अथवा दूसरे अस्पतालों में रैफर न करें। Cm shivraj singh chauhan ने गत दिवस हमीदिया अस्पताल से चिरायु अस्पताल रैफर किए गए दो मरीजों के मामले में तुरंत जाँच कर रिपोर्ट देने के निर्देश दिए।





सीएमएचओ को निलंबित करें | Cm shivraj





मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सागर जिले की समीक्षा के दौरान कोरोना संबंधी अद्यतन जानकारी न देने पर वहां के मुख्‍य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को तत्काल निलंबित करने के निर्देश दिए।





जावद एसडीएम को निलंबित करें





नीमच जिले की समीक्षा में पाया गया कि जावद में एक साथ कोरोना के मरीज बढ़े तथा वहां आवश्यक सावधानियां नहीं बरती गई। इस पर मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि एसडीएम जावद को तुरंत निलंबित किया जाए। उन्होंने कलेक्टर को पूरी सावधानी बरतने के निर्देश दिए।





संक्रमित क्षेत्रों में हो प्रभावी नियंत्रण





मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि संक्रमित क्षेत्रों में आंतरिक आवा-जाही नहीं होनी चाहिए, अन्यथा वहां संक्रमण फैलेगा। इन क्षेत्रों में गाइड लाइन अनुसार प्रभावी नियंत्रण सुनिश्चित किया जाए।





प्रवासी मजदूरों का स्वास्थ्य परीक्षण करें





दमोह जिले की समीक्षा के दौरान प्रवासी मजदूरों का स्वास्थ्य परीक्षण एवं लक्षण होने पर उन्हें क्वारेंटाइन करने के निर्देश दिए गए। कलेक्टर ने बताया कि संक्रमित व्यक्ति 29-30 मई तक स्वस्थ होकर घर चले जाएंगे।





233 में से 203 मरीज डिस्चार्ज





खंडवा जिले की समीक्षा में बताया गया कि जिले के 233 कोरोना संक्रमित मरीजों में से 203 को स्वस्थ होने पर डिस्चार्ज कर दिया गया है। अ‍ब जिले में 30 एक्टिव केसेज बचे हैं। संक्रमित मरीजों की कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग के लिए 'सार्थक एप' का उपयोग करने के निर्देश दिए गए। डीजीपी श्री जौहरी ने निर्देश दिए कि कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग के कार्य में पुलिस सक्रिय भूमिका निभाए।





सैम्पल लेने के बाद आयसोलेशन में रखें





अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य श्री सुलेमान ने निर्देश दिए कि कोरोना टैस्ट करने के बाद व्यक्ति को आयसोलेशन में रखा जाना आवश्यक है। यदि उसके घर में आयसोलेशन की व्यवस्था न हो तो उसे सी.सी.सी. अथवा डी.सी.एच.सी. में रखा जाए।





उज्जैन के लिए अमलतास अस्पताल अनुबंधित





अपर मुख्य सचिव हैल्थ ने बताया कि उज्जैन जिले के कोरोना मरीजों के इलाज के लिए अमलतास अस्पताल देवास को भी अनुबंधित कर लिया गया है।





रोजगार सेतु - योजना में मजदूरों का सर्वे प्रारंभ





एसीएस पंचायत एंव ग्रामीण विकास श्री मनोज श्रीवास्तव ने बताया कि रोजगार सेतु योजना के अंतर्गत अप्रवासी कुशल मजदूरों का सर्वे प्रारंभ कर दिया गया है। श्रम सिद्धि अभियान में अभी तक 3 लाख 96 हजार 197 प्रवासी मजदूरों/अन्य मजदूरों को जॉब कार्ड बनाकर दिए गए हैं। साथ ही उन्हें मनरेगा में काम भी दिया जा रहा है।





मनरेगा में गड़बड़ी करने पर सख्त कार्रवाई करें





मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि मनरेगा में गड़बड़ी करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। यदि कोई व्यक्ति मनरेगा में मशीनें लगता है तो उसकी मशीनें जप्त कर उसके विरूद्ध एफआईआर दर्ज की जाए। इसी प्रकार यदि कोई व्यक्ति जॉब कार्ड में गड़बड़ी करता है अथवा अन्य अनियमितता करता है तो उसके खिलाफ भी एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई की जाए।





शून्य प्रतिशत ब्याज पर ऋण दें





Cm shivraj singh chauhan ने निर्देश दिए कि जो किसान समर्थन मूल्य पर अपना गेहूँ बेच रहे हैं, उनसे पुराने फसल ऋण की अधिकतम 50 प्रतिशत राशि काटकर उन्हें शासन की योजना अनुसार शून्य प्रतिशत ब्याज पर नया फसल ऋण उपलब्ध कराया जाए।





अधिक जानकारी के लिए हमें टेलीग्राम और ट्विटर पर फोलो करे





mp kisaan khabar




प्रदेश के किसान सीधे जुड़ेंगे निर्यातकों से : मंत्री श्री





mp news today




Mp news today मध्‍य प्रदेश में क्‍या मिलेगी रियायत और क्‍या...


लोकप्रिय पोस्ट