Notification

×

ad

ad

क्या कह रहे है आपके सितारे ? क्या है आज राशिफल

गुरुवार, 28 मई 2020 | मई 28, 2020 WIB Last Updated 2021-04-01T09:32:30Z
    Share

आज की विशेष जानकारी  सर्वार्थ एवं अमृत सिद्धि योग 07:26 तक है , गुरु पुष्य योग 7:26 तक है, आज रानी लक्ष्मीबाई निर्वाण दिवस  है





दैनिक राशिफल   





देशे ग्रामे गृहे युद्धे सेवायां व्यवहारके।





नामराशेः प्रधानत्वं जन्मराशिं न चिन्तयेत्।।





विवाहे सर्वमाङ्गल्ये यात्रायां ग्रहगोचरे।





जन्मराशेः प्रधानत्वं नामराशिं न चिन्तयेत ।।





🐏मेष





भूले-बिसरे साथियों से मुलाकात होगी। दूर के शुभ समाचार प्राप्त होंगे। आत्मविश्वास में वृद्धि होगी। प्रतिद्वंद्वी सक्रिय रहेंगे। परिवार के किसी सदस्य के स्वास्थ्य की चिंता रहेगी। व्यवसाय ठीक चलेगा। आय बढ़ेगी। जोखिम न लें।





🐂वृष





बेरोजगारी दूर करने के प्रयास सफल रहेंगे। अप्रत्याशित लाभ हो सकता है। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। किसी बड़ी समस्या का हल सहज ही प्राप्त होगा। शत्रुओं का पराभव होगा, फिर भी सावधानी आवश्यक है। थकान महसूस होगी। सुख के साधनों पर व्यय अधिक होगा।





👫मिथुन





पुरानी व्याधि उठ सकती है। विवाद से क्लेश होगा। चिंता तथा तनाव बने रहेंगे। अप्रत्याशित खर्च सामने आएंगे। अपेक्षित कार्यों में विलंब होगा। पारिवारिक समस्याएं बनी रहेंगी। मतभेद हो सकता है। व्यवसाय ठीक चलेगा। लाभ होगा।





🦀कर्क





किसी प्रतिभाशाली व्यक्ति का मार्गदर्शन प्राप्त होगा। व्यवसाय में वृद्धि होगी। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। बकाया वसूली के प्रयास सफल रहेंगे। कोई बड़ा काम करने का मन बन सकता है। प्रसन्नता में वृद्धि होगी। थकान महसूस होगी। प्रतिद्वंद्वी सक्रिय रहेंगे।





🐅सिंह





चोट व रोग से बाधा संभव है। नई योजना बनेगी। कार्यप्रणाली में सुधार होगा। समाज में मान-सम्मान मिलेगा। व्यवसाय लाभदायक रहेगा। सुख के साधन प्राप्त होंगे। लभा के अवसर हाथ आएंगे। लेन-देन में सावधानी रखें। जोखिम व जमानत के कार्य टालें।





🙎‍♀️कन्या





तीर्थयात्रा की योजना बनेगी। अध्यात्म में रुचि बढ़ेगी। कानूनी अड़चन दूर होकर लाभ की स्थिति बनेगी। रोजगार में वृद्धि होगी। विरोध होगा। स्वास्थ्य पर खर्च हो सकता है। पारिवारिक सहयोग प्राप्त होगा। वस्तुएं संभालकर रखें।





⚖️तुला





यात्रा में सावधानी रखें। नेत्र पीड़ा हो सकती है। प्रेम-प्रसंग में जोखिम न लें। जल्दबाजी से हानि संभव है। चोट व दुर्घटना से हानि संभव है। किसी अपने का व्यवहार हृदय को चोट पहुंचा सकता है। लेन-देन में सावधानी रखें। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। व्यवसाय ठीक चलेगा।





🦂वृश्चिक





वाणी पर नियंत्रण रखें। राजभय रहेगा। जल्दबाजी से बचें। शारीरिक कष्ट संभव है। कानूनी अड़चन दूर होगी। व्यवसाय ठीक चलेगा। दांपत्य जीवन सुखमय रहेगा। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी। बाहर जाने का मन बनेगा। पारिवारिक सहयोग मिलेगा। प्रमाद न करें।





🏹धनु





भय, पीड़ा व चिंता का माहौल बन सकता है। आंखों में पीड़ा हो सकती है। भूमि व भवन इत्यादि खरीदने की योजना बनेगी। रोजगार में वृद्धि होगी। विवाद से बचें। पार्टनरों का सहयोग प्राप्त होगा। जोखिम उठाने का साहस कर पाएंगे। भाग्य का साथ पूरा-पूरा रहेगा।





🐊मकर





विद्यार्थी वर्ग सफलता हासिल करेगा। यात्रा मनोरंजक रहेगी। मनपसंद भोजन का आनंद मिलेगा। रोजगार में वृद्धि होगी। मित्र व संबंधियों के साथ अच्छा समय व्यतीत होगा। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। किसी वरिष्ठ व्यक्ति का मार्गदर्शन प्राप्त होगा। विवाद न करें।





🍯कुंभ





दु:खद समाचार मिल सकता है। दौड़धूप अधिक होगी। धैर्य रखें। स्वास्थ्य खराब हो सकता है। भाग्य का साथ नहीं मिलेगा। लेन-देन में सावधानी रखें। क्रोध पर नियंत्रण रखें। बनते कामों में अड़चन आएगी। व्यवसाय ठीक चलेगा। बुद्धि से समस्याएं दूर होंगी।





🐟मीन





प्रयास सफल रहेंगे। सामाजिक प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। कार्य की प्रशंसा होगी। रोजगार में वृद्धि तथा प्रसन्नता बनी रहेगी। व्यवसाय ठीक चलेगा। मातहतों का सहयोग प्राप्त होगा। पुराने अटके कार्य पूर्ण होंगे। चोट व रोग से बचें। थकान रहेगी। जल्दबाजी न करें।





*दिनाँक -: 28/05/2020, गुरुवार*





षष्ठी, शुक्ल पक्ष





ज्येष्ठ





"""""""""”""""""""""""""""""""""""(समाप्ति काल)





तिथि    ------------षष्ठी    23:26:48            तक





पक्ष    ---------------------------शुक्ल





नक्षत्र    ------------पुष्य    07:25:51





योग    --------------घ्रुव    24:22:32





करण    --------कौलव    12:02:38





करण    -----------तैतुल    23:26:48





वार    -------------------------गुरूवार





माह ----------------------------ज्येष्ठ





चन्द्र राशि      --------------------कर्क





सूर्य राशि      -------------------वृषभ





रितु    ----------------------------ग्रीष्म





आयन    --------------------उत्तरायण





संवत्सर    -----------------------शार्वरी





संवत्सर (उत्तर)    ------------प्रमादी





विक्रम संवत    ----------------2077 





विक्रम संवत (कर्तक)    ----2076





शाका संवत    ----------------1942





वृन्दावन





सूर्योदय    -----------------05:26:12





सूर्यास्त    -----------------19:07:07





दिन काल    ---------------13:40:55





रात्री काल    -------------10:18:49





चंद्रोदय    ----------------10:12:55





चंद्रास्त    ----------------24:08:43





लग्न    ---- वृषभ    12°59' , 42°59'





सूर्य नक्षत्र    ------------------रोहिणी





चन्द्र नक्षत्र    ---------------------पुष्य





नक्षत्र पाया --------------------रजत





शुभा$शुभ मुहूर्त





राहू काल    13:59 - 15:42    अशुभ





यम घंटा    05:26 - 07:09    अशुभ





गुली काल    08:51 - 10:34  अशुभ





अभिजित    11:49 -12:44    शुभ





दूर मुहूर्त    09:59 - 10:55    अशुभ





दूर मुहूर्त    15:28 - 16:23    अशुभ





🚩गंड मूल    07:26 - अहोरात्र    अशुभ





💮चोघडिया, दिन





शुभ    05:26 - 07:09    शुभ





रोग    07:09 - 08:51    अशुभ





उद्वेग    08:51 - 10:34    अशुभ





चर    10:34 - 12:17    शुभ





लाभ     12:17 - 13:59    शुभ





अमृत     13:59 - 15:42    शुभ





काल    15:42 - 17:25    अशुभ





शुभ    17:25 - 19:07    शुभ





🚩चोघडिया, रात





अमृत     19:07 - 20:24    शुभ





चर    20:24 - 21:42    शुभ





रोग     21:42 - 22:59    अशुभ





काल    22:59 - 24:17*    अशुभ





लाभ     24:17* - 25:34*    शुभ





उद्वेग    25:34* - 26:51*    अशुभ





शुभ    26:51* - 28:09*    शुभ





अमृत    28:09* - 29:26*    शुभ





*





   आपका दिन मंगलमय हो


ad

लोकप्रिय पोस्ट